उत्तराखण्डकुमाऊं,

हल्द्वानी- यहाँ घर से निकला स्कूटी सवार युवक अस्पताल में मिला मृत, पिता ने जताई हत्या की आशंका

हल्द्वानी न्यूज़– यहाँ घर से निकला स्कूटी सवार युवक संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया। बाद में पिता को बेटे के अस्पताल में भर्ती होने की सूचना मिली। पिता अस्पताल पहुंचे तो युवक की मौत हो चुकी थी। युवक के शरीर पर चोट के निशान हैं। पिता ने बेटे की हत्या का शक जताया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया है।

मानपुर पश्चिम निवासी सूरज अधिकारी उम्र 25 वर्ष टीपीनगर स्थित एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में ड्राइवर था। वह पिता दलीप, मां निर्मला, पत्नी रेनू, 12 साल की बेटी और छोटे भाई दीपक के साथ रहता था। पिता दलीप ने बताया छोटा बेटा सूरज एसटीएच के बाहर ठेला लगाता है। 14 अप्रैल की सुबह करीब 7:30 बजे सूरज दुकान आया। कुछ देर बाद वह स्कूटी से घर जाने की बात कहकर निकला लेकिन घर नहीं पहुंचा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- तो इस तरह से उड़ कर पहाड़ में आया था पाकिस्तानी झंडा…

वही उधर पिता की ओर से 15 अप्रैल को गुमशुदगी की तहरीर टीपीनगर चौकी को दी गई थी। जब पुलिस को पता चला कि घायल युवक सूरज अधिकारी है तो पिता को जानकारी दी। पिता का कहना है वह अस्पताल पहुंचे तो बेटे की मौत हो चुकी थी। उसके सिर, हाथ और कमर में चोट के निशान थे और सूरज का मोबाइल गायब था। पिता ने चोटों के निशान देखकर हत्या की आशंका जताई है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड सरकार ने पुरस्कार की धनराशि बढ़ोतरी, अब वीरांगनाओं को मिलेंगे 51 हजार रुपये।

उधर, टीपीनगर चौकी इंचार्ज दीपक बिष्ट ने बताया कि नीलकंठ अस्पताल के पास एक बार है। वहां पर ब्रेकर के कारण युवक की स्कूटी रपट गई थी। हादसे में वह घायल हो गया था। युवक के पास कोई आईडी कार्ड नहीं था। स्कूटी में नंबर नहीं था। उधर डायल 112 ने युवक को सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती कराया। स्कूटी चौकी में खड़ी करा दी। कहा कि युवक आईसीयू में अज्ञात में भर्ती था। इस कारण उसका पता नहीं चल पाया। पुलिस के पास सीसीटीवी फुटेज मौजूद है। दलीप अंतिम संस्कार के लिए बेटे के शव को पैतृक गांव रैगांव चंपावत ले गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) यहां अवैध रूप से प्लाटिंग करने वाले प्रॉपर्टी डीलरों को बड़ा झटका, 4 कॉलोनियों के ध्वस्तीकरण के आदेश।