उत्तराखण्डकुमाऊं,

हल्द्वानी- मुस्लिम धर्म गुरुओं पर भड़कीं डीएम वंदना सिंह, कहा- फोन बंद न करते तो नहीं होती बनभूलपुरा हिंसा

हल्द्वानी न्यूज़- हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुई हिंसा के बाद स्थिति धीरे धीरे सामान्य हो रही है। बनफूलपुरा इलाके में अभी भी कर्फ्यू जारी है। इस दौरान जिला प्रशासन ने अमन चैन कमेटी के तहत मुस्लिम धर्म गुरुओं की हल्द्वानी नगर निगम में एक बैठक बुलाई। बैठक में हल्द्वानी हिंसा के बाद के हालातों पर चर्चा की गई। इस दौरान मुस्लिम धर्म गुरु ने जिला प्रशासन पर बिना मुस्लिम धर्म गुरुओं के सामंजस्य के जिला प्रशासन अतिक्रमण तोड़ने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को मामले को लेकर पहले ही मुस्लिम धर्म गुरुओं से बात करनी चाहिए थी। इस दौरान डीएम वंदना ने मुस्लिम धर्म गुरुओं को नसीहत दी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - महा जनसंपर्क अभियान की तैयारियो को लेकर पार्टी पाधिकारियों संग बैठक करते कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी।

डीएम वंदना ने कहा सरकारी भूमि पर मस्जिद और मदरसा बनाया गया था जो पूरी तरह से गलत था। सरकार उस भूमि को खाली करना चाहती हैं। एक तारीख को नोटिस जारी कर मदरसा और नमाज स्थल को खाली करने के निर्देश भी दिए गए। इसको लेकर धर्म गुरुओं के साथ बैठक भी हो चुकी है। सभी धर्म गुरुओं को इसे लेकर जानकारी थी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) यहाँ होली की खुशियां मातम में बदली, तेज रफ्तार कार कूड़ेदान से टकराई, तीन लोगों की मौत

उन्होंने कहा मुस्लिम धर्मगुरुओं की ओर से जो आरोप लगाये जा रहे हैं वो पूरी तरह से गलत हैं। इस दौरान डीएम ने कहा जिस समय बनभूलपुरा में उपद्रव शुरू हुआ। उस समय मुस्लिम धर्मगुरु से संपर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन तब सभी मुस्लिम धर्म गुरुओं ने अपने-अपने मोबाइल बंद कर दिये थे। अगर मुस्लिम धर्मगुरु उस समय पुलिस प्रशासन का सहयोग करते तो इतनी बड़ी घटना नहीं होती। 

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) हिट एंड रन कानून में हुए बदलाव के चलते चालकों की हड़ताल का असर अब पेट्रोल पंपो में लगी भीड़, प्रशासन बोला आपूर्ति सामान्य

हालांकि मुस्लिम धर्म गुरुओं ने डीएम के आरोपों को खारिज किया है।