Uncategorizedअंतरराष्ट्रीय

यहाँ पति ने अपनी पत्नी व एक साल की मासूम बेटी की करी निर्मम हत्या, आरोपी पति को पुलिस ने किया गिरफ्तार

प्रेम प्रसंग में बाधक बनने पर एक युवक ने अपनी पत्नी व एक वर्षीय पुत्री की रविवार की रात को हत्या कर दी और अपना सिर दीवार में मारकर चोटिल करते हुए घर में आधा दर्जन नकाबपोशों द्वारा लूटपाट कर हत्या करने की बात कहने लगा। चार घंटे में ही पुलिस ने इस दोहरे हत्याकांड की वारदात का खुलासा करते हुए युवक के झूठ से पर्दा उठा दिया। पुलिस ने हत्या करने में प्रयुक्त किया गया क्रिकेट बैट बरामद कर लिया। पत्नी व बेटी की हत्या करने वाले आरोपी के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए उसे न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया।

सोमवार की सुबह यूपी के ललितपुर के मोहल्ला चांदमारी निवासी नीरज कुशवाहा ने सूचना दी कि रविवार की रात को करीब आधा दर्जन नकाबपोश बदमाश उसके घर में घुस आए और उसकी पत्नी मनीषा (22) व एक वर्षीय पुत्री काव्या की हत्या कर घर में लूटपाट की घटना को अंजाम दिया। नीरज ने यह भी बताया कि नकाबपोशों के हमले में वह घायल हो गया है और उसे जिला अस्पताल में मोहल्ले के लोगों ने पहुंचाकर भर्ती कराया। 

यह भी पढ़ें 👉  राशिफल- आज इन राशि वालों के लिए दिन रहेगा परेशानी भरा, पढ़ें दैनिक राशिफल

शहर में दुस्साहसिक वारदात घटित होने की सूचना पर पुलिस अधीक्षक मोहम्मद मुश्ताक, एएसपी अनिल कुमार, फॉरेसिक जांच टीम सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचे। पुलिस ने घटनास्थल का बारीकि से निरीक्षण किया। फॉरेसिक टीम ने मौके से साक्ष्य एकत्रित किए। मोहल्ले के लोगों से आवश्यक पूछताछ की। दोहरे हत्याकांड का खुलासा करने के लिए एसपी ने एएसपी व सीओ सदर के नेतृत्व में पुलिस की छह टीमों का गठन किया और हत्यारोपियों को जल्द से जल्द पकड़ने के निर्देश दिए। 

निर्देशों के क्रम में पुलिस टीमें जांच में जुट गईं। मोहल्ले व आसपास के घरों में लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए। साथ में नीरज से पूछताछ की गई। जिसमें पुलिस के हाथ कुछ सुराग लगे। सुरागों की कड़ी को जोड़ा तो घटना की परतें खुलती गईं। मनीषा व एक वर्षीय काव्या की हत्या नकाबपोश बदमाशों ने नहीं स्वयं नीरज ने की थी। पुलिस ने नीरज को हिरासत में लिया तो उसने पूरी घटना बयां कर दी। 

हत्या का कारण नीरज का एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था और मनीषा उसके प्रेम में बाधक बन रही थी। घटना की रात करीब दो बजे मनीषा का इसी बात को लेकर नीरज से झगड़ा हुआ था। जिस पर नीरज ने मनीषा के सिर पर किक्रेट बैट से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। जिससे मनीषा लहूलुहान होकर गिर गई थी। इसके बाद नीरज ने मनीषा का गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया। वहीं झगड़ा होने और नीरज द्वारा मनीषा पर किक्रेट बैट से हमला करने के दौरान पलंग पर सो रही एक वर्षीय काव्या जाग गई तो नीरज ने उसका भी गला दबाकर मौत की नींद सुला दिया। पत्नी व पुत्री की हत्या करने के बाद नीरज ने घर के अंदर अलमारी में रखे सामान को फैला दिया, खून से सने क्रिकेट बैट को छुपा दिया और स्वयं अपना सिर दीवार में मारकर चोटिल करके कमरे में ही लेट गया था। 

यह भी पढ़ें 👉  संस्कृति की अद्भुत झलक है हल्दूचौड़ का कौतिक मेला सात दिवसीय उत्तरायणी मेले की तैयारियाँ जोरों पर- मेलाध्यक्ष दिनेश पाण्डेय

सुबह पांच बजे नीरज ने अपने मित्र को फोन कर बताया कि उसके घर में आधा दर्जन नकाबपोश बदमाशों ने लूटपाट की और उसकी पत्नी व पुत्री की हत्या करते हुए उसे घायल कर दिया है। सूचना पर नीरज का मित्र व मोहल्ले के अन्य लोग मौके पर पहुंच गए थे। लोगों ने नीरज को जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया था। पुलिस ने हत्यारोपी नीरज को गिरफ्तार कर लिया और निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त किए गए खून से सने क्रिकेट बैट को बरामद कर लिया। दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाले हत्यारोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया।

यह भी पढ़ें 👉  यहां छेड़खानी का विरोध करने पर नाबालिग छात्रा को युवक ने चलती ट्रेन के आगे फेंका, कटे दो पैर- एक हाथ, अब लड़ रही है जिंदगी की जंग

प्रेम प्रसंग में बांधक बनने पर नीरज ने अपनी पत्नी व एक वर्षीय पुत्री की हत्या कर दी थी और गुमराह करने के लिए नकाबपोश बदमाशों के द्वारा लूटपाट कर पत्नी व पुत्री की हत्या करने की कहानी सुनाई। पुलिस ने घटना को लेकर हर एक पहलू से जांच की और मात्र चार घंटे के अंदर ही घटना का खुलासा कर दिया। हत्या में प्रयुक्त किया गया खून से सना हुआ क्रिकेट बैट बरामद कर लिया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद हत्यारोपी को जेल भेज दिया। -मोहम्मद मुश्ताक, पुलिस अधीक्षक