Uncategorizedअंतरराष्ट्रीयउत्तराखण्ड

Modi 3.0: Top 4 मंत्रालय में कोई परिवर्तन नहीं, शिवराज को कृषि, मनोहर लाल को ऊर्जा, जाने किसे मिला कौन सा मंत्रालय, देखे लिस्ट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंत्रिपरिषद सहयोगियों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया है। मंत्रियों के विभागों की सूची राष्ट्रपति भवन के सचिवालय की ओर से जारी कर दी गई है। सूची के मुताबिक नितिन गडकरी को लगातार तीसरी बार सड़क परिवहन मंत्रालय सौंपे जाने के आसार हैं। अब तक की जानकारी के अनुसार पिछली सरकार में भाजपा के पांच प्रमुख मंत्रियों के विभागों को नई सरकार में भी जस का तस रखा गया है। इनमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, वित्त मंत्री निर्मला सीतारणम, विदेश मंत्री एस जयशंकर के नाम शामिल हैं।

 

प्रधानमंत्री ने अन्य कैबिनेट सहयोगियों के बीच भी मंत्रालय बांट दिए हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कैबिनेट की पहली बैठक में पीएम आवास योजना को लेकर बड़े फैसले लिए। सूत्रों के मुताबिक अजय टम्टा को सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाए जाने के आसार हैं। हर्ष मल्होत्रा भी सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय में राज्य मंत्री बनाए गए हैं।

 

चिराग पासवान को खेल मंत्रालय के साथ खाद्य प्रसंस्करण भी
सीआर पाटिल को जलशक्ति मंत्रालय, गजेंद्र शेखावत को संस्कृति-पर्यटन और चिराग पासवान को खेल व युवा कल्याण मंत्रालय मिला है। उन्हें इसके साथ-साथ खाद्य और प्रसंस्करण मंत्रालय भी सौंपा गया है। सर्बानंद सोनोवाल को बंदरगाह और जहाजरानी, राम मोहन नायडू को नागरिक उड्डयन, किरेन रिजिजू को संसदीय कार्य और भूपेंद्र यादव को पर्यावरण मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है। चुनाव हारने के बावजूद मंत्री बनाए गए रवनीत सिंह बिट्टू को अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय दिया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल- यहाँ पर्यटकों की कार गिरी गहरी खाई में, बालिका की मौत, सात घायल।

 

रक्षा, शिक्षा, स्वास्थ्य जैसे अहम विभाग भाजपा अपने पास ही रख सकती है
राजनाथ सिंह रक्षा मंत्री बरकरार रहेंगे। भाजपा के वर्तमान अध्यक्ष जेपी नड्डा को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय और धर्मेंद्र प्रधान को शिक्षा मंत्रालय का जिम्मा मिला है। जीतनराम मांझी को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की जिम्मेदारी मिली है।

 

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री को कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय मिलने के आसार
पांच बड़े मंत्रालय यानी गृह, रक्षा, वित्त, परिवहन और विदेश में कोई बदलाव नहीं किया गया है। राजनाथ सिंह रक्षा मंत्री, अमित शाह गृह मंत्री, निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री और एस जयशंकर विदेश मंत्री बने रहेंगे। कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ले चुके मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को कृषि और पंचायती राज मंत्रालय मिला है। अश्विनी वैष्णव को सूचना और प्रसारण मंत्रालय के साथ-साथ सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय भी दिया गया है।

देखें मोदी सरकार 3.0 के मंत्रियों की पूरी लिस्ट

प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी

 

प्रधानमंत्री और इसके प्रभारी:

कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय;

परमाणु ऊर्जा विभाग;

अंतरिक्ष विभाग;

सभी महत्वपूर्ण नीतिगत मुद्दे; और

अन्य सभी विभाग जो किसी मंत्री को आवंटित नहीं किये गए हैं।

 

 

केबिनेट मंत्री

1. राजनाथ सिंह रक्षा मंत्री.
2. अमित शाह गृह मंत्री; और

सहकारिता मंत्री.

3. नितिन जयराम गडकरी सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री
4. जगत प्रकाश नड्डा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री; तथा

रसायन एवं उर्वरक मंत्री।

5. शिवराज सिंह चौहान कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री; तथा

ग्रामीण विकास मंत्री

6. निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री; और

कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री।

7. सुब्रह्मण्यम जयशंकर विदेश मंत्री।
8.  मनोहर लाल आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री; तथा

विद्युत मंत्री.

9. एच.डी. कुमारस्वामी भारी उद्योग मंत्री; तथा

इस्पात मंत्री.

10.  पीयूष गोयल वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री।
11  धर्मेन्द्र प्रधान शिक्षा मंत्री।
12. जीतन राम मांझी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री।
13. राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह पंचायती राज मंत्री; तथा

मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री।

14. सर्बानंद सोनोवाल पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री।
15. डॉ. वीरेंद्र कुमार सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री।
16. किंजरापु राममोहन नायडू नागरिक उड्डयन मंत्री।
17. प्रहलाद जोशी उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री; और

नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री।

18. जुएल ओराम जनजातीय मामलों के मंत्री।
19. गिरिराज सिंह कपड़ा मंत्री।
20. अश्विनी वैष्णव रेल मंत्री;

सूचना एवं प्रसारण मंत्री; तथा

इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री।

21. ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया संचार मंत्री; और

पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री।

22. भूपेन्द्र यादव पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री।
23.  गजेन्द्र सिंह शेखावत संस्कृति मंत्री; और

पर्यटन मंत्री.

24. अन्नपूर्णा देवी महिला एवं बाल विकास मंत्री
25.  किरेन रिजिजू संसदीय कार्य मंत्री; और

अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री।

26.  हरदीप सिंह पुरी पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री
27. डॉ. मनसुख मंडाविया श्रम एवं रोजगार मंत्री; तथा

युवा मामले और खेल मंत्री।

28.  जी. किशन रेड्डी कोयला मंत्री; तथा

खान मंत्री.

29.  चिराग पासवान खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री
30. सी.आर. पाटिल जल
हरियाणा के पूर्व सीएम को भी अहम जिम्मेदारी मिल सकती है।
सूत्रों के मुताबिक, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और मोदी मंत्रिपरिषद में बतौर कैबिनेट मंत्री शपथ लेने वाले मनोहर लाल खट्टर को ऊर्जा व आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय का जिम्मा मिलने के आसार हैं। उनके साथ तोखन साहू आवास और शहरी मामलों के राज्य मंत्री और श्रीपद नाईक ऊर्जा राज्य मंत्री हो सकते हैं।
कैबिनेट में सात महिलाओं को मिली जगह
बता दें कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने प्रधानमंत्री मोदी और मंत्रिपरिषद के उनके 71 सहयोगियों को नौ जून की शाम सवा सात बजे से आयोजित समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई थी। लगातार तीसरी बार बनी एनडीए सरकार के मंत्रिमंडल में सात महिला मंत्रियों को जगह मिली है। प्रधानमंत्री ने पूर्व वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर एक बार फिर भरोसा दिखाया है। सीतारमण के अलावा पूर्व राज्यमंत्री अन्नपूर्णा देवी, उत्तर प्रदेश से निर्वाचित अनुप्रिया पटेल और कर्नाटक से निर्वाचित शोभा करंदलाजे को एक बार फिर मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। पहली बार मंत्री बनने वाली महिला नेताओं में 37 वर्षीय रक्षा निखिल खड़से का नाम भी शामिल है।