उत्तराखण्डकुमाऊं,

बिंदुखत्ता को राजस्व गांव बनाने को वनाधिकार समिति बिंदुखत्ता की बैठक का आयोजन

लालकुआं न्यूज़- बिंदुखत्ता को राजस्व गांव का दर्जा देने के लिए क्षेत्रीय विधायक डॉ मोहन बिष्ट द्वारा जिला प्रशासन, वन विभाग और समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों की वनाधिकार समिति बिंदुखत्ता के साथ आयोजित संयुक्त बैठक में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि अभिलंब वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत बिंदुखत्ता को राजस्व गांव का दर्जा देने की प्रक्रिया की संपूर्ण औपचारिकता पूरी कर प्रस्ताव उच्च अधिकारियों को प्रेषित करें।

यह भी पढ़ें 👉  विश्व स्वास्थ्य दिवस पर मातृशक्ति को दिए टिप्स कहा स्वस्थ परिवार ही स्वस्थ संस्थान का निर्माता है


यहां नगर पंचायत कार्यालय में आयोजित वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत बिंदुखत्ता को राजस्व गांव बनाने के लिए चल रही प्रक्रिया के तहत जिला प्रशासन, वन विभाग और समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक डॉ मोहन बिष्ट ने कहा कि पिछले डेढ़ वर्ष से बिंदुखत्ता को राजस्व गांव बनाने की प्रक्रिया वन अधिकार अधिनियम 2006 के तहत चल रही है, जिसमें वर्तमान में दावे एवं आपत्तियां समेत जो भी निस्तारण की कार्रवाई लंबित है उसे अभिलंब पूर्ण करते हुए फाइल तैयार कर अगले चरण के लिए प्रेषित की जाए,

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- MBPG में वार्षिक उत्सव कार्यक्रम के बीच बखेड़ा करने वालों को पुलिस ऐसे उठा ले गई, देखे वीडियो

और साथ ही उन्होंने वनाधिकार समिति बिंदुखत्ता के पदाधिकारियों से भी पूरी प्रक्रिया में सहयोग बनाए रखने का अनुरोध किया।

इस मौके पर उप जिलाधिकारी हल्द्वानी परितोष वर्मा, एसडीओ गौला अनिल कुमार सिंह और सहायक समाज कल्याण अधिकारी राहुल कुमार ने जल्द से जल्द उक्त प्रक्रिया पूर्ण कराने का उन्हें आश्वासन दिया।
इस अवसर पर वन अधिकार समिति बिंदुखत्ता के अध्यक्ष अर्जुन नाथ गोस्वामी, कैप्टन चंचल सिंह कोरंगा, देवेंद्र बिष्ट, सुरेश पांडे, सोनू पांडे और नगर पंचायत लालकुआं के अधिशासी अधिकारी राहुल कुमार सिंह सहित कई कर्मचारी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने प्रभावित 14 परिवारों को सहायता राशि के चैक किए वितरित।