उत्तराखण्डकुमाऊं,

सहकारी डेयरी प्रशिक्षण संस्थान लालकुआं में प्रदेश की दुग्ध समितियों के सचिवों के पांच दिवसीय रिफ्रेशर शिविर का हुआ विधिवत समापन

लालकुआं न्यूज़- सहकारी डेरी प्रशिक्षण संस्थान, लालकुआँ में (जायका) प्रोजेक्ट के अंतर्गत जनपद नैनीताल के दुग्ध उत्पादकों एवं कृषकों को चारा विकास से संबंधित प्रशिक्षण दिया गया और साथ ही प्रदेश के जनपदों की महिला सचिवों के पाँच दिवसीय रिफ्रेशर कार्यक्रम का विधिवत समापन भी हुआ। प्रशिक्षण कार्यक्रम में उत्तराखंड कोऑपरेटिव डेयरी फेडरेशन के प्रबंध निदेशक जयदीप अरोड़ा द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए चारा विकास, पशु-स्वास्थ एवं दुग्ध उत्पादन से आर्थिक विकास के संबंध में जानकारी दी गई, एवं प्रमाण-पत्र वितरण किये गये।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(दुःखद) यहाँ परीक्षा फल आने के बाद यहां छात्रा ने उठाया आत्मघाती कदम, हुई मौत, पढ़े पूरी खबर।

वही कार्यक्रम का संचालन एवं स्वागत सहकारी डेरी प्रशिक्षण संस्थान लालकुआँ के प्रभारी अधिकारी डॉ० कुमार अजीत सिंह द्वारा किया गया। जायका प्रोजेक्ट के संबंध में डॉ० एच एस कुटौला द्वारा जानकारी देते हुए मृदा परीक्षण, चारा विकास आदि विषय पर प्रजेन्टेशन के माध्यम से चर्चा की।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(अच्छी खबर) प्रदेश में अब हफ्ते में एक दिन बिना बस्ते के स्कूल जाएंगे बच्चे, पांच किलो से कम होगा बैग का वजन, पढ़े पूरी खबर।

उक्त कार्यक्रम में उप सामान्य प्रबंधक आरएम तिवारी, कोर्स कोऑर्डिनेटर चन्द्रकला खाती, हरीश उपाध्याय, सहायक प्रबंधक देवकी सेमवाल, सरोज देवी, कलावती भौर्याल आदि उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- गढ़वाल कांग्रेस मुक्त, अब टिहरी सीट पर कोशिश तेज, एक और विधायक पर भाजपा की निगाह