उत्तराखण्डकुमाऊं,

हल्द्वानी- यहाँ घूस लेते एक और अधिकारी हुआ गिरफ्तार, विजिलेंस की टीम ने की कार्यवाही

लघु सिंचाई खंड नैनीताल के अधिशासी अभियंता कृष्ण सिंह कन्याल को विजिलेंस की टीम ने 50 हजार रुपये के रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। अधिशासी अभियंता ठेकेदार को पैसे के भुगतान करने के बाद इनाम के तौर पर उससे घूस मांग रहा था। घूस लेने के लिए अधिशासी अभियंता ने ठेकेदार को नयागांव के रेस्टोरेंट में बुलाया था। विजिलेंस की टीम देर रात तक अधिशासी अभियंता के हल्द्वानी और देहरादून स्थिति आवास की तलाशी ले रही है। समाचार लिखे जाने तक तलाशी अभियान जारी है। बृहस्पतिवार को उसे कोर्ट में पेश किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- अब यहाँ चली वन प्रभाग की जेसीबी, जंगल की जमीन से हटाये गए धार्मिक अतिक्रमण, 60 वर्ष पुरानी मजार भी तोड़ी।

 

विजिलेंस के सीओ अनिल मनराल ने बताया कि बीते कुछ दिन पहले ठेकेदार ने कार्यालय में पहुंचकर शिकायत कि थी कि लघु सिचाई खंड नैनीताल के अधिशासी अभियंता कृष्ण सिंह कन्याल पुत्र श्री हरक सिंह निवासी लार्ड कृष्णा ग्रीन प्रथम तल वी-109 केदारपुरम मोथरो वाला देहरादून हाल निवासी मुकुल विहार सिजवाली काम्पलैक्स बी-5 प्रथम तल तल्ली बमौरी, लालडांठ बाईपास रोड हल्द्वानी उनसे घूस मांग रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां पहाड़ से गिरे पत्थर से हुई कार की टक्कर, टक्कर के बाद 100 फीट नीचे नदी में गिरी कार, चार की मौत, दो घायल

 

बताया कि बीते वर्ष ग्राम सेलिया में लघु सिचाई विभाग की गुल निर्माण का ठेका लिया गया था । लगभग 10 लाख रुपये का कार्य शिकायतकर्ता ने किया। इसका भुगतान हो गया है। इसी भुगतान के एवज में लघु सिंचाई विभाग के ईई कृष्ण सिंह कन्याल इनाम के रूप में रिश्वत की मांग कर रहे हैं।

 

जांच करने में शिकायत सही पाई गई। सीओ मनराल ने बताया कि निरीक्षक भानु प्रकाश आर्य के नेतृत्व में एक ट्रैप टीम का गठन किया गया। कहा कि ईई को 50 हजार रुपये लेते हुए सिक्स सीजन रिजॉट, नया गांव कालाढूंगी के परिसर से रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त से पूछताछ जारी है। प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया है। उधर निदेशक सतर्कता डा. वी. मुरूगेशन ने ट्रैप टीम को नगद पुरुषकार देने की घोषणा की है।

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर- यहाँ सोशल मीडिया में एक पोस्ट पर किये गए कमेंट को लेकर शुरू हुई लड़ाई सड़क पर पहुंची, जाने पूरा मामला