स्वास्थ्य

हेल्थ- इस विटामिन की कमी से हार्ट अटैक का रहता है खतरा, बचाव के लिए करे ये उपाय

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए लगभग सभी पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। अगर शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाए, तो कई तरह की समस्याएं होने का खतरा रहता है। इन पोषक तत्वों में सभी तरह के विटामिन्स और मिनरल्स साबित है। हार्ट अटैक की बात करें, तो हार्ट अटैक या फिर हार्ट फेलियर से बचने के लिए डॉक्टर सही खानपान की सलाह देते हैं। अगर आप खानपान में गड़बड़ी करते हैं, तो हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है। मुख्य रूप से कुछ विटामिन ऐसे हैं, जिसकी कमी हार्ट अटैक का खतरा बढ़ा सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  हार्ट अटैक से ठीक पहले शरीर के इन 5 हिस्सों में होने लगता है दर्द, जिसे इग्नोर कर देते हैं 90 फीसदी लोग

आइए जानते हैं किस विटामिन की कमी से हार्ट अटैक का खतरा रहता है?

यूरोपियन हार्ट जर्नल में पब्लिश रिसर्च में बताया गया है कि शरीर में विटामिन डी की कमी के कारण हार्ट अटैक का खतरा रहता है। इसकी कमी हार्ट से जुड़ी समस्याओं का कारण होता है। ऐसे लोगों में अन्य लोगों की तुलना में हार्ट डिजीज होने की संभावना ज्यादा होती है।

कुछ अध्ययन में साबित किया गया है कि अगर आप विटामिन डी से भरपूर आहार लेते हैं, तो इससे काफी हद तक हार्ट डिजीज से बचाव कियया जा सकता है। दरअसल, विटामिन डी आपके शरीर में ब्लड प्रेशर को संतुलित रखने का कार्य करता है। इससे आप हार्ट डिजीज से बच सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  (डीपीएस वार्षिकोत्सव) दी लीजेंड ऑफ राघव की धूम

इतना ही नहीं, कुछ अन्य अध्ययनों में कहा गया है कि अगर आपके शरीर में इसकी सामान्य कमी है, तो इससे आपके हार्ट पर नेगेटिव असर पड़ सकता है। इसलिए लगभग हर व्यक्ति को सामान्य रूप से कम से कम 30 मिनट तक सूर्य की रोशनी में बैठने की सलाह दी जाती है।

शरीर में विटामिन डी की कमी को दूर करने के लिए सूर्य की रोशनी को सबसे अच्छा सोर्स माना जाता है। इसके लिए सुबह के समय कुछ मिनटों तक बैठें। इसके अलावा आप कुछ खानपान के माध्यम से भी इसकी पूर्ति कर सकते हैं, जैसे-

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड-(खुशखबरी) ये दवाई हुई इतनी फ़ीसदी सस्ती, पढ़े पूरी खबर....

  • फैटी फिश का करें सेवन, इसके लिए आप ट्यूना, सैल्मन मैकेरल जैसी मछलियों का सेवन कर सकते हैं।
  • डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे- दही, दूध और चीज का सेवन करें।
  • संतरे, मौसमी जैसे फलों का सेवन करें।
  • सोया मिल्क और साबुत अनाज अपने आहार में जोड़ें, इत्यादि।

शरीर में विटामिन डी की कमी के कारण हार्ट डिजीज का खतरा बन सकता है। ऐसे में अपने शरीर में इसकी पूर्ति करें। साथ ही डॉक्टर द्वारा बताए गए सुझाव को अच्छे से फॉलो करें।