उत्तराखण्डउधम सिंह नगरकुमाऊं,

बाजपुर में पत्नी ने तवे से पीट पीटकर पति की कर दी हत्या, रात में दंपती में हुआ था विवाद, सुबह जाकर ससुर को बोल दी ये बात

बाजपुर न्यूज़-  घरेलू कलह से आक्रोशित महिला ने पति की रोटी सेंकने वाले तवे से पीट-पीटकर हत्या कर दी। वही सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी ली और शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपित महिला को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है।

 

नगरपालिका के वार्ड नंबर-8 मोहल्ला सुभाषनगर निवासी चंद्रप्रकाश उर्फ सोनू पुत्र शंकर का पत्नी से कंचन से घरेलू विवाद चल रहा था। गुरुवार सुबह भी उनमें विवाद हुआ तो गुस्से में आई कंचन ने तवे से पति पर ताबड़तोड़ वार कर दिया। जिससे वह लहूलुहान होकर नीचे गिर पड़ा और कुछ समय में ही उसकी मृत्यु हो गई। घटना की सूचना से पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया।

 

आनन-फानन पुलिस मौके पर पहुंच कर मामले की जानकारी ली। पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वही पुलिस ने आरोपित महिला को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है। इस सनसनीखेज घटना से मोहल्लेवासियों को झकझोर दिया। मृतक के पिता शंकर सिंह पुत्र वनवारी लाल ने पुलिस को दी तहरीर में कहा कि उसके तीन लडके एवं एक लडकी है, सभी शादीशुदा है।

यह भी पढ़ें 👉  हाईस्कूल की परीक्षा में पूर्व मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल की पोती प्रियंका ने 98.4% अंक पाकर किया क्षेत्र का नाम रोशन

 

सुभाषनगर बाजपुर में दो मंजिला मकान व दुकान है। निचले तल में वह स्वयं और बेटा जगदीश रहता है, दूसरी मंजिल में सबसे बडा वाला बेटा इंद्रपाल अपनी पत्नी अनीता (दोनो मूक वधिर है) दोनों एक कमरे में रहते हैं। दूसरे कमरे में चंद्रप्रकाश अपनी पत्नी कंचन व अपने दोनों बच्चों गीतांजली व कुशाल के साथ रहता था। चंद्रप्रकाश नशे का आदी था और उसका पत्नी से अक्सर प्रेम प्रसंग को लेकर लडाई झंगडा होता रहता था।

 

बहू कंचन का बाहरी किसी लडके के साथ प्रेम संबंध और अक्सर फोन पर बाहरी लडके के साथ बातचीत करती रहती थी। जिसका चंद्रप्रकाश को पता चला तो वह बाहरी लडके से बातचीत करने से मना करता था। इसी बात को लेकर उन दोनों में झगडा होता रहता था।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- यहाँ खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बता कर कारोबारी के घर में घुसे अज्ञात बदमाश, परिवार को बंधक बनाकर की लूट, पुलिस तलाश में जुटी

 

गुरुवार की सुबह बहु कंचन निचली मंजिल पर आई और आकर बताया कि चंद्रप्रकाश को देखो क्या हो गया है, जब हम कमरे में पहुंचे तो उसके सिर,नाक और मुंह से खून निकल रहा था। हाथ पूरी तरह से अकड़े हुए थे और वह मृत अवस्था में पडा था। हालात देख तत्काल पुलिस को सूचित किया।

 

बहू कंचन ने प्रेम प्रसंग के चक्कर में पुत्र की हत्या कर दी है। पुलिस ने कंचन के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज कर शव पोस्टमार्टम को भेज दिया है।पीएम रिपोर्ट आने के बाद अग्रिम कार्यवाही की जाएगी। महिला से पूछताछ की जा रही है । सोनू का विवाह लगभग नो वर्ष पूर्व किच्छा निवासी माया देवी की पुत्री कंचन से हुआ था।

 

अभी 30 अप्रेल को ग्राम जोगीपुरा निवासी विमला रानी अपने पति रमेश चंद्र पुत्र अविनाश चंद्र का कत्ल कर दिया था और यह मामला ठंडा भी नहीं हुआ था कि गुरुवार को कंचन ने अपने पति चंद्रशेखर की हत्या कर दी। मात्र 24 दिनों में घरेलू हिंसा के चलते हुई यह दो हत्याओं ने आम जन को झकझोर कर रख दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहाँ अस्पताल में भर्ती मरीज बना रहा था पैग, डॉक्टर ने पकड़ कर लगाई फटकार

 

दोनो ही घटनाएं एक दूसरे से मिलती जुलती हैं । बात करे रमेश की तो पुलिस पूछताछ में गिरफ्तार महिला विमला ने बताया था कि उसका पति वेल्डर का काम करता था और घर के नजदीक वर्कशाप खोल रखी थी। पिछले कई दिनों से गलत कार्य को लेकर पति-पत्नी के बीच आपसी घरेलू कलह चल रही थी।

 

मृतक के भाई राजेंद्र चंद्र ने तहरीर में विमला रानी पर बेटी की शादी भाई की बिना मर्जी के करने का आरापे लगाते हुए सुनियोजित तरीके से लोहे के मोटे पाइप, लोहे की राड से जानलेवा हमला कर पीट-पीट कर मारने की बात कही है। आज भी एक पिता ने बहू पर प्रेमप्रसंग की बात कहते हुए बेटे की तवे से पीट पीट कर हत्या की बात कही है ।