उत्तराखण्डकुमाऊं,

नैनीताल- यहाँ शादी की खुशियां मातम में बदली, आग से जलकर घर हुआ राख, दुल्हन बिना लौटी बारात

रामनगर न्यूज़- उत्तराखंड के रामनगर में एक परिवार की खुशियां चंद मिनटों में मातम में बदल गई। शादी के घर में जहां एक ओर तैयारियां चल रही थी कि तभी शादी के दिन ही बड़ा हादसा हो गया। जानकारी के अनुसार मालधनचौड़ के कुंभगडार क्षेत्र में एक परिवार की शादी की खुशियां पल भर में गम में बदल गई। बारात लेकर गए दूल्हे के घर में भीषण आग लग गई।

जिससे पूरा घर व सात कच्ची गोशाला तथा शादी का टेंट आदि सामान आग की भेंट चढ़ गया। परिवार के लोग खुले आसमान के नीचे आ गए हैं। शाम को बारात बिना दुल्हन लिए वापस आ गई।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहाँ चंपावत के युवक ने होटल के कमरे में लगाई फांसी, नही मिला मौके से कोई सुसाइट नोट

मालधनचौड़ गांव में तराई पश्चिमी वन प्रभाग के अंतर्गत कुंभगडार खत्ता में वन गूजर मो. बसीर व उनके पुत्र सुलेमान एवं भांजे तसलीम के कच्चे घर एक दूसरे से सटे हुए हैं। गुरुवार को बसीर के दूसरे पुत्र अब्दुल सत्तार का निकाह था। बसीर व उसके परिवार के सभी लोग बारात लेकर रामनगर के ही नई बस्ती 16 नंबर में गुलाब रसूल के घर गए थे। घर में कुछ ही लोग रह गए थे।

यह भी पढ़ें 👉  यहाँ शादी के बाद मायके लौटी दुल्हन ने की आत्महत्या, मातम में बदली खुशियां।

बताया जाता है कि दोपहर एक बजे अचानक बसीर की झोपड़ी में आग लग गई। देखते ही देखते आग ने तीन झोपड़ियों को चपेट मे ले लिया। आग काफी भीषण थी। लोगों ने झोपड़ी के भीतर से जो सामान हाथ लग सका उसे बाहर निकाला।

सूचना पर आमपोखरा के रेंजर पूरन सिंह खनायत स्टाफ के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने जेसीबी व पानी का टैंकर आदि मौके पर बुलाया। लेकिन तेजी से फैल रही आग में एक नई बाइक, टेंट का सामान जलकर राख हो गया। जब तक फायर बिग्रेड के वाहन आग बुझाने पहुंचे तब तक सब कुछ जल चुका था।

यह भी पढ़ें 👉  हल्दुचौड में कल होगा 7 दिवसीय उत्तरायणी मेले का उद्घाटन- दिनेश पांडे

बताया जाता है कि जंगल में लगी आग की चिंगारी से हादसा हुआ। शाम को बारात बिना दुल्हन लेकर वापस आ गई। घर बनने के बाद दुल्हन लाने का निर्णय हुआ है।