उत्तराखण्डगढ़वाल,

उत्तराखंड- रेलवे सुरंग निर्माण के दौरान कर्मचारी की मौत, सात अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग ब्रॉडगेज रेल लाइन की सुरंग निर्माण दौरान कौडियाला स्थित रेलवे प्रोजेक्ट पैकेज-3 में काम कर रहे तीन कर्मचारी घायल हो गए थे। उनमें से एक कर्मचारी मौत हो गई। कर्मचारी के भाई की तहरीर पर थाना मुनि की रेती पुलिस ने सुरंग निर्माण में लगी नवयुगा कंपनी के साइट इंजीनियर, ठेकेदार सहित सात अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) हल्द्वानी के CSC सेंटरों में सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह की ताबड़तोड़ छापेमारी, कहीं दूसरे की आईडी से CSC चल रही है, तो कहीं दूसरी जगह पर चल रहे सीएससी सेंटर।

 

चमोली के जोशीमठ (ज्योतिर्मठ) तहसील निवासी वेद प्रकाश पुत्र मथुरा प्रसाद ने थाना मुनि की रेती में लिखित तहरीर दी। इसमें बताया कि 10 जून को उनके चचेरे भाई कमलेश पंत (29) पुत्र रमेश चंद्र को कंपनी के साइट इंजीनियर, सेफ्टी ऑफिसर सहित अन्य अधिकारियों ने लापरवाही से सीधे सुरंग के फेस के अंदर भेज दिया था, जहां चट्टान टूटने से उनका चचेरा भाई गंभीर रूप से घायल हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ सेब से भरा पिकअप अनियंत्रित होकर खाई में गिरा, वाहन चालक की मौत, एक घायल

 

उपचार के दौरान 13 जून को उसकी मौत हो गई। बताया कि इस घटना में कंपनी के दो अन्य कर्मचारी इमरान पुत्र फुरकान निवासी मल्लीपुर, सहारनपुर उत्तर प्रदेश और प्रमुख कंवर पुत्र मिश्री कंवर निवासी वसबेरवा, पतगोडा, हंसडीहा, दुमका, झारखंड भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

थाना प्रभारी निरीक्षक रितेश साह ने बताया कि तहरीर के आधार पर नवयुगा कंपनी में कार्यरत साइट इंजीनियर रंगनाथ, सेफ्टी ऑफिसर मनोज पोखरियाल, पीआरओ रंजन भंडारी, टनल इंचार्ज नरेंद्र कुमार अत्री, सुपरवाइजर कमल, ठेकेदार जितेंद्र कुमार तोमर और एचआर मैनेजर भुवन चंद्र जोशी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले में जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड -(बेहद दुःखद) यहाँ सड़क दुर्घटना में दो रेंजरों समेत चार की मौत, नई गाड़ी का ट्रायल कर रहे थे अधिकारी