उत्तराखण्डकुमाऊं,गढ़वाल,

देहरादून – अब निजी स्कूल तीन साल से पहले नहीं बढ़ा सकेंगे फीस, पढ़े खबर

देहरादून न्यूज़- शहर के निजी स्कूलों की मनमानी पर शिक्षा विभाग लगाम कसने जा रहा है। अब ऐसे स्कूल तीन साल से पहले अपनी फीस में एक रुपया भी नहीं बढ़ा सकेंगे। शुक्रवार को एमकेपी इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में बीईओ प्रेम स्कूलों लाल भारती ने साफ शब्दों में अल्टीमेटम दिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां शादी के बाद नवविवाहिता छठे दिन संदिग्ध परिस्थितियों में हुई लापता।

 

उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल अगर फीस के मानकों की अनदेखी करते हैं तो शिक्षा विभाग उनकी मान्यता भी निरस्त कर सकता है। उन्होंने कहा कि सभी स्कूलों को शिक्षा विभाग के नियम-कायदों से ही चलना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-(बड़ी खबर) डीजीपी एक्शन मोड में, एक मुंशी सस्पेंड, सीओ खुद लिखेंगे अपना क्राइम रजिस्टर

 

वही बैठक में विभागीय अफसरों ने इस बात पर भी नाराजगी जताई कि निजी स्कूलों में मानकों के अनुसार पढ़े-लिखे और ट्रेंड शिक्षक नहीं रखे जा रहे हैं। इसे लेकर भी बीईओ ने सख्त निर्देश दिए कि सभी स्कूल न्यूनतम अर्हता और ट्रेनिंग वाले शिक्षक ही रखें। इसे लेकर जल्द ही स्कूलों को सर्वे करने की भी जानकारी दी गई। अफसरों ने स्कूलों की समस्याएं भी सुनीं और उनके समाधान पर चर्चा की।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- ना कांपे हाथ...ना दहला कलेजा, पत्नी ही निकली मास्टरमाइंड, पति को मौत के घाट उतारा, जानें पूरा मामला