उत्तराखण्डकुमाऊं,

हल्द्वानी -(बड़ी खबर) डीएम वंदना सिंह ने बनभूलपुरा में हालात का जायजा लेकर क्या कहा, देखे वीडियो

  • उपद्रवियों से डीएम ने सख्ती से निपटने के लिए निर्देश,उपद्रवियों की गिरफ्तारी शुरू

हल्द्वानी न्यूज़: हल्द्वानी के बनभूलपुरा क्षेत्र के मालिक के बगीचे में नगर निगम के भूमि पर अवैध रूप से बनाए गए मस्जिद और मदरसे के हटाने के दौरान हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुए बवाल के बाद स्थिति गंभीर बनी हुई है। पुलिस और उपद्रवियों के बीच झड़प भी हुई। जिसमें एक प्रदर्शनकारी की गोली लगने से मौत हुई है, जबकि कई लोग घायल हुए हैं।

वही जिलाधिकारी वंदना सिंह ने हल्द्वानी शहर में धारा 144, जबकि बनभूलपुरा क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया है। हालात का जायजा लेने के लिए जिलाधिकारी खुद देर रात तक मौके पर तनात रही। वहीं घायल पुलिस कर्मियों को देखने के लिए जिलाधिकारी अस्पताल भी पहुंची जहाँ अस्पताल प्रशासन को निर्देश दिया कि सभी घायलों को उचित उपचार दिया जाए।

यह भी पढ़ें 👉  ग्राफिक एरा में साइकल ऑफ स्ट्रेंथ विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन

वही जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार सरकारी भूमि पर मदरसा और मस्जिद बनाया गया था। जिसको हटाने की कार्रवाई के दौरान उपद्रवियों पुलिस और प्रशासन पर पथराव किया। जिसमें पुलिस और प्रशासन के कई लोग घायल हुए हैं। यहां तक की आगजनी से भारी मात्रा में सरकारी और निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचा है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी – यहाँ ट्रक यूनियन की हड़ताल से सप्लाई ठप, हजारों ट्रकों के थमे पहिए, कारोबार पर पड़ेगा व्यापक असर

प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों को भी फूक दिया है।
जिलाधिकारी ने कहा है कि जिन लोगों ने भी उपद्रव किया है, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस उपद्रवियों को चिन्हित कर रही है और उनकी धर पकड़ की कार्रवाई भी शुरू हो गई है। उपद्रवियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पैरामिलिट्री फोर्स को भी मंगाया गया है।

यह भी पढ़ें 👉  प्रशासन समेत आधा दर्जन विभागों द्वारा लालकुआं मार्केट में की गयी औचक छापेमारी में दो प्रतिष्ठानों में एक्सपायरी डेट का माल मिलने पर मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई, सीसीटीवी ना होने पर एक मेडिकल स्टोर को दिया नोटिस, अचानक हुई छापेमारी से घबराकर दुकानदारों ने प्रतिष्ठान किए बंद

जिलाधिकारी ने कहा है कि जिला प्रशासन की पहली प्राथमिकता है कि हल्द्वानी और उसके आसपास के क्षेत्र में शांति व्यवस्था बनी रहे कोई भी व्यक्ति उपद्रव करते हुए पाए जाएगा उसके खिलाफ पुलिस कानूनी कार्रवाई करेगी। अस्पताल में घायल पुलिस कर्मियों को इलाज की उचित व्यवस्था की जा रही हैज डॉक्टरों की टीम को 24 घंटे अलर्ट पर रहने के निर्देश जारी किए गए हैं।