उत्तराखण्डकुमाऊं,

हल्द्वानी/ लालकुआँ- जिला प्रशासन व निकाय की टीम द्वारा आवारा पशुओं को पकड़ने का कार्य शुरू, स्वामियों के खिलाफ भी कार्यवाही

हल्द्वानी न्यूज़ – बीते दिनों हल्दुचौड़ हाइवे में आवारा जानवर द्वारा युवक की छाती में सींग आर पार करने से हुई दर्दनाक मौत के बाद एक बार फिर प्रशासन नींद से जगा है और आवारा पशुओं को पकड़ने का काम शुरू हो गया है साथ ही पशुओं के कान में लगे टैग से उनके स्वामियों के बारे में भी जानकारी मिल रही है इस आधार पर जानवरों को छोड़ने वाले स्वामियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल- यहाँ अनियंत्रित होकर खाई में गिरा पिकअप, दो की मौत, एक घायल

हल्द्वानी और लालकुआं क्षेत्र में जिला प्रशासन और निकाय की टीम आवारा पशुओं को पकड़ने के साथ ही उनके स्वामियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। उप जिला अधिकारी परितोष वर्मा ने बताया कि लालकुआं में दो पशुओं के कान के टैग से उनके स्वामियों का पता चला है जिनके खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है।

जिलाधिकारी महोदया के निर्देश के क्रम में सड़कों में आवारा घूम रहे गौवंश को पकड़ने की कार्यवाही की गयी। अभियान के दौरान नगर निगम क्षेत्रांतर्गत विभिन्न स्थानों से 11 गायों को पकडा गया । 11 गायों में से पूर्व में टैगड 3 गाये थी। 8 गायों की टैगिंग पशु पालन विभाग की टीम द्वारा वही पर किया गया । 3 पूर्व से टैग गायों में से एक गाय के registration से उसके मालिक के सम्बंध में पता चला।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ बरसाती नाले के तेज बहाव में बह गई इनोवा, पांच लोग की ऐसे बची जान।

उस गाय के मालकिन का नाम सरस्वती देवी पत्नी लक्ष्मी दत्त पांडे, देवरिया किच्छा कि रहने वाली है । उनकी गाय को नगर निगम क्षेत्रांतर्गत नवीन मंडी में पकडा गया । उनके खिलाफ मननीय न्यायालय नगर मजिस्ट्रेट द्वारा उनपर चालानी कार्यवाही की गयी है। सभी गायों को नगर निगम द्वारा संचालित अस्थायी गौशाला में रखा गया है। सभी गायों के मालिकों से अनुरोध है कि वो अपनी गायों को प्राप्त करने के लिए नगर मजिस्ट्रेट कार्यालय में आवेदन करे। उक्त अभियान में नगर निगम हल्द्वानी एवं पशु पालन विभाग की टीम द्वारा किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  वन अधिकार समिति द्वारा बिन्दुखत्ता क्षेत्र की प्रमुख ज्वलंत समस्याओं को लेकर विधायक को दिया ज्ञापन