उत्तराखण्डकुमाऊं,

नैनीताल- जिले में आज टैक्सी संचालकों ने किया हड़ताल का एलान, जाने वजह

नैनीताल न्यूज़- ऑटोमैटेड वाहन फिटनेस सेंटर में वाहनों की फिटनेस को लेकर अवैध वसूली किए जाने के विरोध में टैक्सी संचालकों ने 27 जनवरी को हड़ताल का ऐलान किया है। इस संबंध में टैक्सी महासंघ ने जिलाधिकारी और संभागीय परिवहन अधिकारी हल्द्वानी संभाग को पत्र लिखकर फिटनेस सेंटर की शिकायत भी की है।

महासंघ टैक्सी यूनियन कुमाऊं मंडल के अध्यक्ष ठाकुर सिंह बिष्ट ने कहा कि फिटनेस का काम निजी हाथों में दिए जाने से वाहन चालकों, मालिकों का उत्पीड़न किया जा रहा है। फिटनेस सेंटर में अपनाई जा रही जटिल प्रक्रिया में अधिकांश टैक्सी वाहनों में छोटी-छोटी चीजों पर फिटनेस योग्य न बताकर सुविधा शुल्क के रूप में अवैध वसूली की जा रही है। इसके साथ ही दूसरे दिन फिटनेस के लिए नई प्रक्रिया अपनाकर दोबारा शुल्क वसूला जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां रेलवे पुलिया के नीचे मिली अज्ञात महिला की लाश पुलिस जांच में जुटी...

वहीं महासंघ टैक्सी यूनियन नैनीताल के अध्यक्ष भरत भूषण ने कहा कि फिटनेस सेंटर में कोई भी मानक तय नहीं हैं और न ही वाहन मालिक को इसके बारे में जानकारी दी जा रही है। फिटनेस सेंटर के अंदर वाहन चालकों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है, इस कारण फिटनेस के दौरान कमियां हैं या नहीं इसका भी पता नहीं चल रहा है। कहा कि इससे अनियमितता हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ लगी भीषण आग, बाहर खड़े वाहन भी जले, दमकल की कई गाड़ियां मौके पर मौजूद, देखे वीडियो

इसके साथ ही फिटनेस सेंटर परिवहन विभाग से अधिकृत प्रदूषण केंद्रों से जारी प्रमाण पत्रों को अमान्य कर रहे हैं। महासंघ ने फिटनेस सेंटर को निजी हाथों से हटाने की मांग को लेकर 27 जनवरी को टैक्सी चालकों की हड़ताल का ऐलान किया है। कहा कि इसके बाद भी अगर समस्या का निराकरण नहीं किया जाएगा तो कुमाऊं के टैक्सी चालक अपने कागज सरेंडर कर आगामी संसदीय चुनाव का कार्य बहिष्कार करेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  राशिफल- आज इन राशि वालों को मिलेगा भाग्य का साथ, जाने अन्य राशि के बारे में, पढ़ें अपना दैनिक राशिफल

वहीं नैनीताल टैक्सी मालिक समिति ने वाहनों की फिटनेस में वाहन स्वामियों के शोषण का आरोप लगाया है। समिति के अध्यक्ष पंकज तिवारी ने कहा कि निजी संस्थान की ओर से वाहनों की फिटनेस पर मनमाना शुल्क वसूला जा रहा है जिससे स्वामियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। शिकायत के बाद भी प्रशासन ने संज्ञान नहीं लिया है। इस पर टैक्सी यूनियन ने नैनीताल जिले में समस्त टैक्सी वाहनों का संचालन बंद करने का ऐलान किया है। टैक्सी यूनियन 27 जनवरी से जिले में टैक्सियों का संचालन बंद रखेगी।