उत्तराखण्डकुमाऊं,गढ़वाल,

उत्तराखंड के इस CBI अधिकारी को मिला राष्ट्रपति पुलिस पदक, कई घोटालों का किया पर्दाफाश, जानिए कौन हैं ये तेज तर्रार डीएसपी

  • देहरादून के इस सीबीआई अधिकारी को मिला राष्ट्रपति पुलिस पदक।
  • उत्तराखंड के जज क्वार्टर घोटाले से लेकर कई घोटालों का किया है पर्दाफाश।

देहरादून न्यूज़- दिल्ली में आयोजित समारोह में विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक एवं सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक पाने वाले सीबीआइ के डीएसपी तेज प्रकाश देवरानी ने उत्तराखंड में सेवाओं के दौरान कई घोटालों का पर्दाफाश किया।

यह भी पढ़ें 👉  यहाँ आरबीएम से भरा डंपर का टायर फटने के बाद बाइक को टक्कर मार कर कार पर पलटा डंपर, बाइक सवार एक की मौत, चार घायल, पढ़े पूरी खबर।

देहरादून में उन्होंने बहुचर्चित जजेस क्वार्टर घोटाले के साथ एनआरएचएम घोटाला, आर्य भट्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट नैनीताल में भर्ती व टेंडर घोटाला और आइएमए में फर्जी नियुक्तियों का पर्दाफाश किया। भारत के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ के हाथों उन्हें सम्मानित किया गया।

तेज प्रकाश देवरानी उत्तराखंड में ग्राम देवराना, ब्लाक यमकेश्वर जिला पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले हैं। वर्तमान में वह साकेत कालोनी, अजबपुरकलां देहरादून में रहते हैं। उनकी पत्नी तृप्ति देवरानी ग्राम कोठा, संकुल कोरवा, कालसी देहरादून में सहायक अध्यापक पद पर तैनात हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ महिला ने एक साथ दिया तीन बच्चों को जन्म, दो बेटी और एक बेटे की गूंजी किलकारी

इससे पहले उन्हें राष्ट्रपति की ओर से सराहनीय सेवाओं के लिए भारतीय पुलिस पदक, उत्कृष्ट जांच के लिए वर्ष 2013 और 2018 में सीबीआइ दिवस पुरस्कार, दक्षिण सूडान में शांति स्थापना के लिए वर्ष 2019 में संयुक्त राष्ट्र पुलिस पदक, आठ प्रशंसा पत्र, 60 प्रशस्ति प्रमाण पत्र और 130 नकद पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी – किसी भी दोषी को बक्शा नहीं जाएगा, नुकसान की भरपाई भी दंगाइयों से की जाएगी, जानकारी जुटाने के लिए जारी किए जायंगे दंगाइयों के भी पोस्टर

देवरानी वर्तमान में नई दिल्ली स्थित सीबीआइ के नीति प्रभाग में बतौर डीएसपी (नीति) तैनात हैं। इस पदक की घोषणा वर्ष 2022 में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर की गई थी।