उत्तराखण्डकुमाऊं,

उत्तराखंड- छात्र-छात्राएं ध्यान दें, ऑनलाइन पंजीकरण के बिना नहीं दे पाएंगे 10वीं-12वीं की परीक्षा

उत्तराखंड बोर्ड की 10वीं और 12वीं के संस्थागत छात्र-छात्राओं का ऑनलाइन पंजीकरण न किया तो वे वर्ष 2025-26 में बोर्ड परीक्षा नहीं दे पाएंगे। यह कहना है, उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद के सचिव वीपी सिमल्टी का।

 

उन्होंने पंजीकरण को लेकर सभी सीईओ को निर्देश जारी किया है। परिषद के सचिव की ओर से जारी निर्देश में कहा गया कि वर्ष 2023-24 में कक्षा 9वीं और 11वीं के छात्र-छात्राओं का विभाग के पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकरण किया गया था। जिसमें कुछ स्थानों पर छात्र-छात्राओं के नाम, माता-पिता का नाम, जन्मतिथि, विषय, जाति, माध्यम, दिव्यांगता आदि की जानकारी गलत दिखाई दे रही है।

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर- यहां शादी के बीच आ धमकी युवती, रिश्ता मुझसे और निकाह किसी और से, ये नहीं होने दूंगी' मै, जानिए पूरा मामला...

 

पंजीकरण डाटा का प्रयोग बोर्ड परीक्षा वर्ष 2025 के लिए किया जाना है। गलत और आधी अधूरी जानकारी को ठीक करने का अंतिम अवसर दिया जा रहा है। इसके लिए पोर्टल 10 जून से 15 जुलाई तक खोला जा रहा है। इसके बाद यदि कोई छात्र डाटा संशोधन से वंचित रह जाता है तो इसकी जिम्मेदारी संबंधित प्रधानाचार्य की होगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा मे चिल्ड्रन्स एकेडमी का उत्कृष्ट प्रदर्शन, बच्चो ने पाए बच्चों ने प्रदेश की मेरिट लिस्ट में स्थान पाकर इतिहास रचा

 

निर्देश में यह भी कहा गया कि यदि विद्यालय से कक्षा 9वीं और 11वीं उत्तीर्ण करने के बाद छात्र ने किसी अन्य विद्यालय में प्रवेश ले लिया या वह कक्षा में फेल हो गया तो ऐसे छात्र-छात्राओं का विवरण हटाया जाना है। निर्देश में यह भी कहा गया कि किसी विद्यालय से स्थानांतरित या फिर किसी दूसरे बोर्ड से विद्यालय में आने वाले छात्रों का विवरण अभी अंकित नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  नंदादेवी गौरादेवी कन्याधन योजना के कड़े नियमों में अविलंब शिथिलीकरण न किए जाने पर सुराज सेवादल ने दी प्रदेशव्यापी आंदोलन की चेतावनी।