उत्तराखण्डगढ़वाल,

उत्तराखंड- यहाँ निर्माणाधीन बिल्डिंग के आठवें फ्लोर से गिरकर नामी बिल्डर की मौत, सुसाइड नोट ने खोला सच, पुलिस जांच में जुटी

देहरादून के नामी बिल्डर एसएस साहनी उर्फ बाबा साहनी ने राजपुर रोड स्थित एक निर्माणाधीन बिल्डिंग से छलांग लगा दी। पुलिस के अनुसार बिल्डर को गंभीर हालत में मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी मौत हो गई।

 

अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि बिल्डर ने यह कदम क्यों उठाया। बताया जा रहा है कि वह काम के सिलसिले में काफी दिनों से डिप्रेशन में थे। घटना के बाद बिल्डर के परिजन उन्‍हें मैक्स अस्पताल ले गए। पुलिस को भी घटना की सूचना काफी समय बाद मिली। पुलिस जांच में लेनदेन का मामला सामने आ सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- निकाय चुनाव को लेकर आई बड़ी अपडेट, नये आरक्षण के अनुसार होगा चुनाव, राज्य निर्वाचन आयोग ने आरक्षण की रिपोर्ट शासन को भेजी

 

मृतक के पास से मिले सुसाइड नोट में जाने माने बिल्डर का नाम सामने आया है। बताया जा रहा रेसकोर्स निवासी सतेंद्र सिंह साहनी के शहर में दो प्रोजेक्ट चल रहे थे। इनमें एक सहस्त्रधारा हेलीपेड व दूसरा राजपुर रोड पर था। प्रोजेक्ट पर उनकी कम्पनी साहनी इंफ्रास्ट्रक्चर व साहनी इंफ्रा काम कर रही थी। प्रोजेक्ट पर करोड़ों रुपये लग रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहाँ अपनी पत्नी को लेने ससुराल पहुंचे पति ने कर दिया ऐसा कांड, मौके पर मच गई चीख-पुकार, आरोपी पति की तलाश में जुटी पुलिस

 

ऐसे में उन्होंने तीन बिल्डरों का शेयर लगवा दिया। इनमें से एक नामी बिल्डर जिसका आपराधिक रिकॉर्ड है, वह साइट पर घूमने लगा। इस बिल्डर का 75 प्रतिशत शेयर था। ऐसे में दो बिल्डरों ने हाथ पीछे खींच लिए, जिसके चलते प्रोजेक्ट रुक गया।

 

जिस बिल्डर ने 75 प्रतिशत शेयर लगाया, उसने साहनी से अपनी धनराशि वापस मांगनी शुरू कर दी। तनाव में आकर साहनी ने खुदकुशी कर ली। बताया जा रहा है कि पुलिस ने बिल्डर को हिरासत में ले लिया है, जहां उससे पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी – कोषागार से पेंशन आहरित करने वाले पेंशनरो के आधार को लेकर आया नया अपडेट

 

पुलिस सूत्रों के अनुसार फ़िलहाल इसमें हत्या और आत्महत्या दोनों एंगल पर जांच चल रही है। बताया जा रहा है कि साहनी के कई प्रोजेक्ट रुक गये थे। इससे उनके पार्टनर्स में भी विवाद चल रहा था।