उत्तराखण्डगढ़वाल,

उत्तराखंड- यहाँ मुरादाबाद में गबन के आरोपी की बिजनौर में की हत्या, उत्तराखंड के लैंसडौन के जंगलों में फेंका शव

यहाँ मुरादाबाद में गबन के आरोपी की हत्या कर उसका शव उत्तराखंड में लैंसडौन के जंगल में फेंक दिया गया। मुरादाबाद जिले के थाना कटघर की पुलिस ने हत्यारोपी की निशानदेही पर लैंसडौन पुलिस की मदद से ग्राम बिलांसू के जंगल से शव बरामद किया है। यूपी पुलिस ने बताया कि आरोपी मुरादाबाद से युवक को बिजनौर ले गए। जहां उन्होंने युवक की हत्या कर शव लैंसडौन के जंगल में फेंक दिया।

 

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मोहम्मद अकरम ने बताया कि प्रतापगढ़, यूपी निवासी अजय कुमार उम्र 26 वर्ष पुत्र भोलानाथ मुरादाबाद में रहकर नौकरी करता था। उसके खिलाफ मुरादाबाद के कटघर थाने में गबन का मुकदमा भी दर्ज है। पुलिस ने गबन के मामले की जांच में पूछताछ की तो पता चला कि अजय के एक परिचित नहटौर, बिजनौर निवासी अनमोल ने उसकी हत्या कर दी है। पुलिस ने अनमोल को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(भर्ती -भर्ती) यहाँ आई 253 डाटा एंट्री ऑपरेटर पर भर्ती

 

पूछताछ में अनमोल ने पुलिस को बताया कि चार जून को वह अजय को मुरादाबाद से बिजनौर ले गया था और यहां उसने अपने साथियों के साथ मिलकर अजय की हत्या कर दी। इसके बाद शव को लेकर वह लैंसडौन के बिलांसू गांव के जंगल पहुंचे और यहां गहरी खाई में फेंक दिया था।

 

11 जून को थाना कटघर के उप निरीक्षक बृजेश कुमार की सूचना पर लैंसडौन पुलिस, एसडीआरएफ एवं यूपी पुलिस ने देर शाम अजय का शव खाई से निकाला। उन्होंने बताया कि जंगल की आग के कारण शव जल गया था। लैंसडौन पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कोटद्वार में पोस्टमार्टम कराया। मामले की जांच मुरादाबाद पुलिस कर रही है।

यह भी पढ़ें 👉  एमबीपीजी छात्रसंघ चुनाव अपडेट- 14 वें राउंड

 

यूपी और उत्तराखंड के कई चेक पोस्ट से गुजरे, किसी को नहीं लगी भनक
हत्यारोपी और उसके साथी बिजनौर में अजय की हत्या करने के बाद शव को लैंसडौन में फेंककर चले गए। बिजनौर और लैंसडौन के बीच करीब 100 किमी की दूरी है। रास्ते में बिजनौर से लेकर कीरतपुर और नजीबाबाद थाने में पड़ता है। वहीं, उत्तराखंड में कोटद्वार और लैंसडौन कोतवाली पड़ती है। इस दौरान हत्यारों ने शव को लेकर वाहन में करीब एक सौ किमी. से अधिक की दूरी तय की। इसके बाद भी किसी थाने और चौकी पर चेकिंग नहीं हुई। जिससे दोनों राज्यों की चेकिंग व्यवस्था पर भी सवाल उठ रहे हैं।

 

गबन के मुकदमे की जांच से हुआ अजय की हत्या का खुलासा
मुरादाबाद के कटघर थाने के उपनिरीक्षक बृजेश कुमार ने बताया कि प्रतापगढ़ जनपद का निवासी अजय कुमार उम्र 26 वर्ष पुत्र भोलानाथ मुरादाबाद के कटघर में एक बड़े व्यापारी के यहां नौकरी करता था। उसने यहां पैसे का गबन किया था। जिसकी रिपोर्ट व्यापारी ने थाने में दर्ज कराई थी। पुलिस मामले की जांच करते हुए अजय के दोस्त जिला बिजनौर के नहटौर निवासी अनमोल तक पहुंची। बताया जा रहा है कि गबन में अनमोल भी संलिप्त था। अनमोल से सख्ती से हुई पूछताछ के बाद उसने अजय कुमार की हत्या की बात कबूली। बताया कि वह अजय को मुरादाबाद से बिजनौर लाया। जहां उसकी गबन के पैसों को लेकर अजय से तनातनी हो गई। इसके बाद उसने साथियों के साथ मिलकर उसकी हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  अग्निवीर अमृतपाल सिंह को शहीद का दर्जा नहीं दिए जाने पर युवाओं में रोष, करी ये मांग