उत्तराखण्डकुमाऊं,गढ़वाल,मौसममौसम

उत्तराखंड में हुई मानसून की एंट्री, इन जिलों में बारिश का अलर्ट

  • उत्तराखंड में मानसून की एंट्री
  • इन जिलों में बारिश का येलो अलर्ट
  • बारिश के साथ वज्रपात की चेतावनी

उत्तराखंड में प्री मानसून की दस्तक हो चुकी है। बावजूद इसके प्रदेश में उमस का दौर जारी है। इन सबके बीच मौसम विभाग ने बुधवार को राजधानी देहरादून समेत प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है।

मंगलवार को भी प्रदेश के कई हिस्सों में आसमान में बादल छाए रहे, लेकिन बारिश नहीं होने की वजह से राज्यभर में उमस भरा दिन रहा। अब तक उत्तराखंड में मानसून की एंट्री नहीं होने की वजह से प्रदेश वासियों का हाल बुरा है। दिन तो दिन रात में भी लोगों को गर्मी से राहत नहीं मिल रही है। वही IMD रिपोर्ट की मानें तो बुधवार को प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की बारिश दर्ज की जाएगी। वहीं अगले दो दिनों में वज्रपात के साथ ही तेज बारिश की संभावना जताई गई है। आपको बता दें कि पिछले 24 घंटे में राजधानी देहरादून का पारा चार डिग्री तक बढ़ गया। वहीं, 28 जून तक प्रदेश में मानसून की एंट्री हो सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  यहाँ 14 साल के बालक ने की आत्महत्या, वजह जानकर हो जाएंगे आप हैरान, परिवार में मचा कोहराम

इन जिलों में IMD ने जारी किया बारिश का अलर्ट

मौसम विभाग ने देहरादून समेत नैनीताल, पिथौरागढ़, अल्मोड़ा, बागेश्वर, टिहरी, चमोली, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग पौड़ी जिले में बारिश के साथ ही वज्रपात का येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं, इससे पहले कई जिलों में प्री मानसून की बारिश हो सकती है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- बागेश्वर उपचुनाव के लिए भाजपा ने जारी की स्टार प्रचारकों की सूची।

 

उत्तराखंड में जल संकट की स्थिति

आपको बता दें कि मानसून में देरी की वजह से देवभूमि के कई जगहों पर पानी की समस्या उत्पन्न हो चुकी है। लोग पानी की संकट से जूझ रहे हैं। प्रदेशभर में कई जल स्त्रोत सूखने के कगार पर हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ ट्रैक्टर-ट्रॉली और कार की आपस मे हुई जोरदार भिड़ंत, एक की मौत और कई लोग घायल

 

2 दिनों में इन राज्यों में मानसून की दस्तक

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार उत्तरी अरब सागर से मानसून भारत के कई हिस्सों में पहुंचने वाला है. इसमें देश के पूर्वी, पश्चिम, मध्य पश्चिमोत्तर क्षेत्र शामिल है। अगले दो दिनों में मानसून उत्तराखंड के साथ ही उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, मध्य प्रदेश, गुजरात, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ हिमाचल प्रदेश में दस्तक देने वाली है।