उत्तराखण्डगढ़वाल,

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को टिहरी संसदीय सीट पर बड़ा झटका, दो पूर्व विधायकों ने छोड़ी पार्टी

लोकसभा चुनाव के अवसर पर उत्तराखंड में कांग्रेस की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। उत्तरकाशी जिले के दो पूर्व विधायकों विजयपाल सिंह सजवाण और मालचंद ने शुक्रवार को पार्टी से त्यागपत्र दे दिया।

टिहरी संसदीय क्षेत्र में इसे पार्टी के लिए बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि दोनों पूर्व विधायक शनिवार को भाजपा का दामन थाम सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां सरेआम पत्नी ने कर दी पति की चप्पलों से पिटाई, जाने पूरा मामला

प्रदेश में कांग्रेस के लिए अपने नेताओं को थामे रखना भारी पड़ रहा है। लगातार दो लोकसभा चुनाव और दो विधानसभा चुनाव में हार से उपजी हताशा का प्रभाव अगले लोकसभा चुनाव की घोषणा से पहले थमने के बजाय और बढ़ता दिखाई दे रहा है। गढ़वाल संसदीय सीट से टिकट के प्रबल दावेदार मनीष खंडूड़ी ने टिकट घोषित होने से पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में चले गए।

पार्टी ने तीन दिन पहले ही टिहरी, गढ़वाल और अल्मोड़ा की संसदीय सीटों पर प्रत्याशी घोषित किए हैं। अब टिहरी संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत उत्तरकाशी जिले के पूर्व विधायक विजयपाल सिंह सजवाण ने शुक्रवार को पार्टी से त्यागपत्र देने की घोषणा की। सजवाण गंगोत्री विधानसभा क्षेत्र से विधायक रह चुके हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड ( बड़ी खबर) जब धामी सरकार के वरिष्ट व कैबिनेट मंत्री प्रेमचन्द अग्रवाल व एक युवक के बीच हुई हाथापाई, सड़क पर खूब चले लात घुसे…..वीडियो हुई वायरल, देखे वायरल वीडियो

पार्टी में उनकी छवि कद्दावर नेता की रही है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा को अपना त्यागपत्र भेजा है। इसमें व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए त्यागपत्र देने की बात कही गई है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल घूमने आए पर्यटक ने रिसोर्ट संचालक पर चलाई गोली, लोगों में दहशत

उत्तरकाशी जिले के ही पूर्व विधायक मालचंद ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को अपना त्यागपत्र भेजा है। मालचंद ने वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में पुरोला विधानसभा क्षेत्र से टिकट नहीं मिलने पर भाजपा छोड़ दी थी। मालचंद पुरोला सुरक्षित सीट से विधायक रह चुके हैं। दोनों पूर्व विधायकों के शनिवार को भाजपा में सम्मिलित होने की संभावना है।