उत्तराखण्डकुमाऊं,

सीपीपी वर्कर्स यूनियन के पदाधिकारियों ने की विधायक से मुलाकात, दिया ज्ञापन

लालकुआं न्यूज़– सेंचुरी पल्प एंड पेपर मिल वर्कर्स यूनियन के पदाधिकारियों ने नवनिर्वाचित अध्यक्ष कैलाश चंद्र मेलकानी के नेतृत्व में हल्दूचौड़ स्थित विधायक आवास पहुंचकर विधायक मोहन सिंह बिष्ट से मुलाकात की इस दौरान उन्होंने यूनियन और मिल प्रबंधन के बीच द्विपक्षीय समझौते से संबंधित एक मांग पत्र की प्रति उन्हें सौंपी जिस पर विधायक ने आवश्यक कार्रवाई का भरोसा दिया।

बताते चलें की सीपीसी वर्कर्स यूनियन की नवगठित कार्यकारिणी के पदाधिकारियों ने विधायक से मुलाकात की और फूल मालाओं के साथ उनका स्वागत किया। वहीं विधायक डॉ मोहन सिंह बिष्ट ने भी सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों और सदस्यों को फूलमालाओं के साथ शॉल उढ़ाकर सम्मानित करते हुए यूनियन के उज्जवल भविष्य की कामना की।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी – यहाँ होटल में चल रहे फैशन शो के दौरान लगी आग, मौके पर मची भगदड़, दौड़े मॉडल

इस दौरान यूनियन के अध्यक्ष कैलाश चंद्र मेलकानी और महामंत्री कैलाश चौसाली ने कहा कि उनकी यूनियन का पुनर्गठन हुआ है जिसके चलते वह अपनी पूरी टीम के साथ विधायक से शिष्टाचार मुलाकात करने पहुंचे हैं और विधायक मोहन बिष्ट ने भी सभी पदाधिकारियों का स्वागत किया है। साथ ही एक मांगपत्र की कॉपी विधायक को सौंपी है और कहा कि सेंचुरी पेपर मिल के लोगों को विधायक से काफी उम्मीदें है और भरोसा भी है कि वह संस्थान हित से लेकर श्रमिक हितों का भी ध्यान रखेंगे।

यह भी पढ़ें 👉  बिन्दुखत्ता- यहाँ बन रही सड़क का निरीक्षण करने पहुंचे पीडब्ल्यूडी के सुपरवाइजर के ऊपर चढ़ा रोड रोलर, गंभीर हालत में अस्पताल में किया भर्ती

वहीं विधायक डॉ मोहन सिंह बिष्ट ने कहा कि सर्वप्रथम वह सेंचुरी पल्प एन्ड पेपर मिल वर्कर्स यूनियन के सभी पदाधिकारियों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं देते हैं साथ ही वह संस्था हित, मजदूर हित और संगठन हितों के लिए सदैव काम करेंगे उन्होंने कहा कि यूनियन और प्रबंधन के बीच द्विपक्षीय बिंदुओं पर कई बार बैठकों के बाद भी जो निर्णय नहीं हो पाया है उसका वह हल निकालने का प्रयास करेंगे साथ ही सरकार की ओर से भी श्रमिक हितों से लेकर संस्थान हित और यूनियन के हितों का भी ध्यान रखा जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(बड़ी खबर) बनभूलपुरा हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक की पत्नी के नाम हुआ मुकदमा दर्ज, लगे बड़े गड़बड़झाले का आरोप