उत्तराखण्डगढ़वाल,

देहरादून- लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को एक और लगा झटका, पूर्व कैबिनेट मंत्री व वरिष्ठ नेता ने पार्टी से दिया इस्तीफा

  • लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को एक और बड़ा झटका।
  • पूर्व कैबिनेट मंत्री व कांग्रेस के दिग्गज नेता दिनेश अग्रवाल ने दिया इस्तीफा।
  • लोकसभा चुनाव के शुरू होने से 13 दिन पहले पार्टी को भारी नुकसान।

लोकसभा चुनाव के अवसर पर प्रदेश में कांग्रेस को झटके लगने का क्रम थम नहीं रहा है। पूर्व कैबिनेट मंत्री और वरिष्ठ नेता दिनेश अग्रवाल ने शनिवार को पार्टी से त्यागपत्र दे दिया। उन्होंने अपना त्यागपत्र प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा को भेजा है। उनके शीघ्र भाजपा में सम्मिलित होने की चर्चा है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(बड़ी खबर) चारधाम यात्रा से पहले सभी विभाग अपने स्तर पर तैयारी पूर्ण कर ले सीएम धामी ने दिए सख्त निर्देश

दिनेश अग्रवाल की गिनती कांग्रेस की विचारधारा से गहरे जुड़े नेताओं में होती रही है। वह तीन बार विधायक तो रहे ही, कांग्रेस की एनडी सरकार और हरीश रावत सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रहे हैं। गत दिन पार्टी की ओर से जारी 40 स्टार प्रचारकों की सूची में उन्हें भी स्थान दिया गया। यह सूची जारी होने के एक दिन बाद ही दिनेश अग्रवाल ने पार्टी से त्यागपत्र दे दिया।

अग्रवाल प्रदेश कांग्रेस संगठन से लंबे समय से नाराज चल रहे थे। संगठन में जिला व महानगर स्तर पर की गई नियुक्तियों को लेकर उन्होंने कुछ दिन पहले भी नाराजगी जताई थी। इसके बाद पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने उनके आवास पहुंचकर लगभग तीन घंटे तक वार्ता की।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहाँ हल्के विरोध के बीच हल्द्वानी नगर निगम का बजट हुआ पारित, पढ़े विस्तार से

बताया जा रहा है कि इसके बाद अग्रवाल की नाराजगी दूर हुई, लेकिन इस मामले में प्रदेश संगठन और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने जिस प्रकार दूरी बनाए रखी, उससे अग्रवाल ने पार्टी से अलग राह लेने का निर्णय किया। दिनेश अग्रवाल ने प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा को संक्षिप्त पत्र में पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र देने का उल्लेख किया है। चर्चा है कि दिनेश अग्रवाल शीघ्र ही भाजपा का दामन थाम सकते हैं।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) समूह ‘ग’ की यह तीन भर्तियां भी आयेंगी जल्द

हरक सिंह से मिले प्रीतम सिंहकांग्रेस में असंतुष्ट नेताओं को मनाने के लिए वरिष्ठ नेताओं ने मोर्चा संभाला है। पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने शनिवार को पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत से उनके आवास पर भेंट की। हरक सिंह पर ईडी ने शिकंजा कसा है। दोनों नेताओं ने लोकसभा चुनाव के संबंध में चर्चा की।