उत्तराखण्डकुमाऊं,

यहाँ ग्रामीण क्षेत्र में दिनदहाड़े गुलदार दिखने से मचा हड़कंप, मौके पर पहुंचे वन कर्मी

लालकुआं न्यूज़- निकटवर्ती क्षेत्र बरेली रोड के मोटाहल्दू स्थित जयपुर खीमा गांव में घर से बीती शाम गुलदार द्वारा बकरी उठाकर ले जाने के बाद आज बकरी की तलाश में गांव के ही समीप स्थित पुलिया के नीचे पहुंचे युवक पर अचानक गुलदार झपट पड़ा, शोर मचाने पर वह गन्ने के खेत की ओर भाग गया, गांव में 24 घंटे के भीतर दिन के समय में दो बार गुलदार की दस्तक से दहशत का माहौल व्याप्त है।

 

वहीं क्षेत्र पंचायत सदस्य एवं व्यापार मंडल अध्यक्ष ने तत्काल गुलदार को पकड़ने की वन विभाग से मांग की है। वही मौके पर पहुंचे वन कर्मियों को पुलिया के ठीक नीचे प्रातः 11 बजे गुलदार दिखाई दे गया, जिसके बाद वन विभाग द्वारा उक्त गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा मंगाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहां हल्द्वानी से आया युवक नहाते समय महादेव नहर के तेज बहाव में बहा, तलाश जारी।

 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक जयपुर खीमा गांव निवासी ललित मोहन कबडाल के खेत में बटाईदार के रूप में कार्य करने वाले पवन की गौशाला में बधी बकरी को गत शाम लगभग 5:30 बजे सरेआम खेतों की ओर से आया गुलदार अचानक उठाकर ले गया, और समीप ही स्थित सड़क के नीचे बनी पुलिया में घुस गया, जिसकी सूचना शाम को ही प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष संदीप पांडे द्वारा वन क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी रेंज को दी गई, जिसके बाद मौके पर पहुंचे वन कर्मियों ने टॉर्च से उक्त गुलदार एवं बकरी को तलाशने के लिए सर्च अभियान चलाया, लेकिन भय की वजह से वह पुलिया के नीचे नहीं जा सके, परंतु ग्रामीणों का कहना था कि रात्रि में भी पुलिया के नीचे गुलदार और मरी हुई बकरी दूर से दिखाई दे रहे थे।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - हल्दूचौड़ में अवैध तरीके से चल रहा अस्पताल को चिकित्सकों की टीम ने किया सील, लगा इतना जुर्माना।

 

गुलदार की दहशत के चलते रात्रि में ग्रामीण घरों में ही छुपे रहे, जैसे ही सुबह हुई लगभग आधा दर्जन ग्रामीण पुलिया के समीप बकरी को देखने पहुंचे तो पवन के साले गणेश के ऊपर अचानक पुलिया के अंदर छुपा गुलदार झपट पड़ा, परंतु साथियों द्वारा शोर मचाने पर वह बिना कोई नुकसान किया गन्ने के खेत की ओर भाग गया, जिसके बाद मौके पर पहुंची क्षेत्र पंचायत सदस्य गरिमा पांडे ने तत्काल वन क्षेत्राधिकारी को फोन कर अभिलंब गुलदार को पकड़कर ग्रामीणों की सुरक्षा की मांग की, व्यापार मंडल अध्यक्ष संदीप पांडे का कहना है कि ग्रामीणों ने जब गन्ने के खेत में गुलदार को ढूंढने के लिए अभियान चलाया तो खेत में भारी मात्रा में पुरानी हड्डियां मिली है, जिसके चलते संदेह जताया जा रहा है कि गुलदार लंबे समय से गांव में ही रह रहा है, और सियार एवं कुत्तों का शिकार कर रहा है, गत शाम एवं आज प्रातः सरेआम गुलदार द्वारा गांव में दस्तक देने के चलते ग्रामीणों में दहशत व्याप्त है, उन्होंने तत्काल गुलदार को पकड़कर जंगल में छोड़ने की वन विभाग से मांग की है।

यह भी पढ़ें 👉  यहाँ मालगाड़ी की छत पर चढ़ा सिरफिरा युवक, डंडे से बिजली की तारों को हिलाने लगा, डंडे में करंट आने से बुरी तरह से झुलसा

 

इधर प्रातः 10:30 बजे मौके पर पहुंचे हल्द्वानी रेंज के वन कर्मियों ने गुलदार की तलाश प्रारंभ की तो प्रातः 11 बजे पुलिया के नीचे गुलदार दिखाई दे गया, इसके बाद वन कर्मियों ने पिंजरा लगाने के लिए विभागीय अधिकारियों को फोन कर दिया है, फिलहाल हालात यह है कि गुलदार पुलिया के अंदर और वनकर्मी एवं ग्रामीण पुलिया के ऊपर खड़े हैं। तथा पिंजरा आने का इंतजार किया जा रहा है।