उत्तराखण्डकुमाऊं,गढ़वाल,

उत्तराखंड- (बड़ी खबर) 6 साल से कम आयु के बच्चों को पहली कक्षा में प्रवेश की रियायत देने के शिक्षा विभाग के प्रस्ताव को सीएम की मंजूरी

देहरादून न्यूज़- छह साल से कम आयु के बच्चों को पहली कक्षा में एडमिशन की रियायत देने के शिक्षा विभाग के प्रस्ताव को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने हरी झंडी दे दी। चुनाव आचार संहिता लागू होने की वजह से इस प्रस्ताव को लागू करने के लिए निर्वाचन विभाग से अनुमति ली जा रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी पुष्टि की। सीएम कार्यालय से यह फाइल शिक्षा विभाग को मिल गई है।

यह भी पढ़ें 👉  बहुउद्देशीय शिविर का 400 से अधिक लोगों ने उठाया लाभ

इस व्यवस्था के लागू होने से नर्सरी, एलकेजी और यूकेजी कक्षा का कम आयु में पास कर चुके छात्रों के साथ वर्तमान शैक्षिक सत्र में छह साल की आयु की बाध्यता नहीं रहेगी। ऐसे छात्र-छात्राओं को पहली कक्षा में छह साल की आयु पूरी करने के मानक से रियायत मिल जाएगी। मा

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून-(काम की खबर) इस तारीख तक भरवालें रिटर्न, नही तो देना होगा जुर्माना, पढ़े पुरी खबर।

लूम हो कि पिछले साल 14 अगस्त 2023 को राज्य सरकार ने केंद्र के मानको के अनुसार कक्षावार आयु सीमा तय कर दी थी। इसके अनुसार पहली कक्षा में एडमिशन तभी मिलेगा, जब एक अप्रैल को छात्र- छात्रा की आयु छह साल पूरी हो चुकी होगी। इस नियम से बड़ी संख्या में छात्रों के एडमिशन पर संकट आ गया है। अभी कुछ समय पहले डीजी-शिक्षा बंशीधर तिवारी से न आयु सीमा में रियायत का प्रस्ताव सरकार को भेजा था।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ दर्शन को जा रहे तीन युवक की बाइक अनियंत्रित होकर खाई में गिरी, एक की मौत, दो घायल।