उत्तराखण्डगढ़वाल,

उत्तराखंड- यहाँ उपचार के दौरान महिला दरोगा की मौत पर परिजनों ने अस्पताल में काटा हंगामा, लगाए ये आरोप

देहरादून के झाझरा स्थित प्राइवेट अस्पताल में मंगलवार को उपचार के दौरान महिला दारोगा की मौत हो गई। इससे गुस्साए परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा काटा। परिजनों ने डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया।

वही मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह गुस्साए परिजनों को शांत कराया। मृतका के देवर ने मामले में अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ झाझरा पुलिस चौकी को तहरीर दी है।

जानकारी के अनुसार, बीना धीमान उम्र 52 वर्ष पत्नी अशोक कुमार निवासी मांडूवाला, झाझरा स्थित इंडियन रिजर्व बटालियन में अवर उपनिरीक्षक के पद पर तैनात थीं। उन्हें गर्भाशय से संबंधित समस्या थी, जिसे लेकर उन्हें बीती पांच अप्रैल को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। छह अप्रैल को उनका ऑपरेशन हुआ। मृतका के देवर और ग्राम सभा मांडूवाला के प्रधान सुदेश कुमार धीमान ने बताया कि ऑपरेशन से पूर्व सभी जांचें की गई। जिसमें सबकुछ सामान्य था, जिसके बाद ही ऑपरेशन किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- नैनीताल दुग्ध संघ ने रक्षा बन्धन व जनमाष्ठमी पर्व के उपलक्ष्य में दुग्ध उत्पादको को दी सौगात।

मंगलवार की दोपहर दो बजे तक उनकी भाभी का स्वास्थ्य ठीक था। शाम को करीब 4:45 बजे डॉक्टर ने उन्हें सूचना दी गई कि उनकी भाभी की मृत्यु हो चुकी है। यह सुनकर उनके और परिजनों के होश उड़ गए। परिजन शव को देख बिलख-बिलख कर रोने लगे।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) मुख्य प्रशासनिक अधिकारी पद को अब राजपत्रित अधिकारी की प्रतिष्ठा प्रदान होगी, आदेश जारी

वही आरोप लगाया कि अस्पताल की ओर से लापरवाही की गई। उन्होंने डॉक्टरों पर सही उपचार न करने का आरोप लगाया। कहा जब उन्होंने उपचार से संबंधित फाइल मांगी तो डॉक्टर उसे छिपाने लगे। कहा कि अस्पताल प्रबंधन और चिकित्सक पर कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड- (गजब) यहां मां गई जेल, तो बेटी ने मायके आकर संभाल लिया अवैध स्मैक का धंधा, बेटी भी पहुंची सलाखों के पीछे, जानिए पूरा मामला

थाना प्रभारी प्रेमनगर गिरीश नेगी ने बताया कि परिजनों ने डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराने की मांग की है। इसके लिए मुख्य चिकित्साधिकारी को लिखा जाएगा। बताया कि पोस्टमार्टम के बाद ही मौत कारणों का पता चल पाएगा। फिलहाल पुलिस तहरीर के आधार पर घटना की जांच कर रही है।