उत्तराखण्डकुमाऊं,

उत्तराखंड- यहाँ घोड़े पर सवार था दूल्हा, तभी सामने से आया मौसी का बेटा ओर मार दी गोली, पढ़े खबर

काशीपुर न्यूज़-  बचपन में किसी गलती पर थप्पड़ मारने की रंजिश काे लेकर शादी के दिन बरात चड़ी के दौरान बुग्गी पर सवार दूल्हे को मौसी के लड़के ने गोली मार दी। गोली दूल्हे के दाई तरफ सीने में लगी। जिससे मौके पर अफरा-तफरी का माहौल बन गया। परिजनों एवं ससुरालियों द्वारा आनन फानन दूल्हे को लेकर अस्पताल में भर्ती कराया गया।

 

कुंडा थाना क्षेत्र के गढ़ीनेगी निवासी ओम प्रकाश ने अपने बड़े बेटे करन कुमार की शादी रामपुर के थाना सिविल लाइन के पनवड़िया नई बस्ती निवासी हरदयाल की बेटी के साथ तय किया। बुधवार गढ़ीनेगी से रामपुर बरात गई। रात में बरात चढ़ते के समय दूल्हा बुग्गी में सवार था और बराती डीजे पर डांस कर रहे थे। इसी दौरान करन कुमार के मौसी का लड़का अजय कुमार ने सामने से आकर गोली चला दी। जिससे गोली करन कुमार के दाई तरफ सीने में लगी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड के मुकुल ने चार बार पास की यूपीएससी की परीक्षा

 

उपचार के लिए उसे रामपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। दूल्हा करन कुमार के मामा चंद्रपाल ने बताया कि अजय कुमार कुछ समय पहले करन कुमार के ही घर पर रहता था। बचपन में करन कुमार ने अजय को किसी गलती पर थप्पड़ मार दिया था। जिसे वह अभी तक गांठ बांध रखा था। उसका बदला लेने के लिए ही अजय ने गोली चलाया है। हालांकि, मौजूदा समय में अजय मुरादाबाद रह रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- दिल्ली से पिथौरागढ़ को जा रही रोडवेज की बस का हुआ ब्रेक फेल, बाल-बाल बचे 27 यात्री

 

करन की शादी में आने के लिए अजय को भी निमंत्रण दिया गया था। ओमप्रकाश के तीन बच्चे सबसे बड़ा करन कुमार और छोटा अरुण कुमार एवं उससे छोटी बहन लक्ष्मी हैं। करन कुमार ट्रक ड्राइवर है। उनकी माता गृहणी हैं। ओम प्रकाश कर्जा लेकर करन की शादी कर रहे हैं। इसी बीच यह घटना पूरे परिवार को परेशानियों में खड़ा कर दिया है। करन कुमार के मामा चंद्रपाल ने बताया कि गोली करन कुमार के दाई तरफ सीने में फंसी हुई है।

 

जिसे निकालने के लिए आपरेशन करना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि रामपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती करन कुमार को डाक्टरों की सलाह पर गुरुवार दोपहर बाद दो घंटे की छुट्टी कराकर ससुराल ले जाया गया। जहां पर विवाह की रस्में पूरी की गई। उसके बाद दुल्हन की विदाई करके काशीपुर के लिए रवाना हुए। वहीं, करन कुमार का इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। जहां पर उसका आपरेशन करके गोली निकाली जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) आबकारी निरीक्षक एवं उप कारापाल पद हेतु शारीरिक मानक परीक्षा कार्यक्रम की भर्ती पर आई अपडेट

 

गुरुवार को करन कुमार के घर पर उसकी छोटी बहन ही अकेली थी पूरा परिवार इस घटना की जानकारी मिलते ही रामपुर के लिए निकल गए हैं घटना की जानकारी सुनकर पड़ोसी भी स्तब्ध हैं।