उत्तराखण्डकुमाऊं,

हल्द्वानी – यहां झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही से गर्भवती महिला की हुई मौत

हल्द्वानी न्यूज़– शहर के बनभूलपुरा थाना क्षेत्र गौजाजाली से एक ऐसा मामला सामने आया है। जहां गर्भवती महिला के डिलीवरी के लिए परिवार वालों ने एक झोला छाप महिला डॉक्टर से मिलकर महिला का ऑपरेशन कर दिया। वही मामला खराब होने पर आननफानन में परिवार वाले महिला को सुशीला तिवारी अस्पताल ले गए जहां महिला की मौत हुई है। फिलहाल पूरे मामले में परिवार वाले कुछ भी कहने से बच रहे हैं. मामला संदिग्ध प्रतीत होने पर सुशीला तिवारी अस्पताल प्रशासन ने इसकी सूचना पुलिस और सिटी मजिस्ट्रेट को दी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहाँ NCIT कंपनी में कार्यरत कर्मचारी का कमरे में नग्न अवस्था में मिला शव, जानें मामला

सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह का कहना है कि सुशीला तिवारी अस्पताल प्रशासन द्वारा पुलिस को सूचना दी गई की 38 वर्षीय एक महिला के परिवार वाले उसको अस्पताल में लाए हैं जहां उसका डिलीवरी के लिए ऑपरेशन किया गया है और उसकी आंते और बच्चेदानी बाहर निकली हुई है अस्पताल द्वारा महिला का इलाज किया गया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हुई है. पूरे मामले में पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया है. सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह का कहना है की परिजनों से पूछताछ की गई है लेकिन परिजन कुछ भी कहने से बच रहे हैं.पूरे मामले में परिजन किसी तरह का कोई मामला दर्ज नहीं करवा रहे हैं. पोस्टमार्टम के आधार पर पूरे मामले को पुलिस को जांच के निर्देश दिए गए।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- सीएम धामी का बड़ा बयान-  इस विधानसभा सत्र में विधेयक लाकर प्रदेश में जल्द लागू होगा यूसीसी

पूरे मामले की जांच की जा रही है जो भी व्यक्ति दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. सिटी मजिस्ट्रेट रिचा सिंह का कहना है कि झोलाछाप महिला डॉक्टर से भी पूछताछ की जा रही है.परिवार वाले भी पूरे मामले में कुछ भी नहीं बोल रहे हैं. मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है पुलिस मामले की जांच कर रही है जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी के इस इलाके में आज होनी थी वनभूमि पर बने 8 निर्माणाधीन भवनों पर कार्यवाही, इस कारण रोक दी गई कार्यवाही, जाने वजह...