उत्तराखण्डकुमाऊं,नैनीताल न्यूज़, nanital news,

नैनीताल- यहाँ रिजॉर्ट में दो पक्षों के बीच हुआ जमकर हंगामा, एक युवक का फोड़ा सिर

नैनीताल न्यूज़– नैनीताल जिले के भुजियाघाट में बने एक रिजॉर्ट में सोमवार देर शाम क्रिसमस पार्टी के दौरान दो पक्षों में मारपीट हो गई। इसमें एक युवक के सिर पर गंभीर चोट आई है। रिजॉर्ट के बाहर कई राउंड फायरिंग की भी सूचना है। हालांकि पुलिस इससे इनकार कर रही है। देर रात तक रिजॉर्ट के बाहर हंगामा चलता रहा। बताया जा रहा है कि पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रश्मि लमगड़िया समेत तीन लड़कियां इस दौरान वहां फंसी रहीं। इस घटना से भी पुलिस इनकार कर रही है जबकि रश्मि ने पुलिस को तहरीर देने की बात कही है।

नैनीताल रोड में स्थित भुजियाघाट क्षेत्र में नदी किनारे बने गोल्डन सन पार्क रिजॉर्ट में सोमवार को क्रिसमस पर कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसके लिए हरियाणा के गायक अजय हुड्डा को बुलाया गया था। कार्यक्रम को देखने के लिए कुछ स्थानीय युवक भी अंदर आ गए।

यह भी पढ़ें 👉  एकादशी पर मातृशक्ति ने अवंतिका कुंज मंदिर में विधिवत खड़ी होली गायन से की होली पर्व की शुरुआत

कार्यक्रम में अतिथि के रूप में पूर्व संघ अध्यक्ष रश्मि लमगड़िया भी अपने 8-10 साथियों के साथ पहुंची थीं। बताया जाता है कि रात करीब साढे 9 बजे रश्मि के साथ गई एक लड़की को स्थानीय लड़के ने कोई टिप्पणी की, जिसका रश्मि के साथ मौजूद लड़के ने विरोध किया। इसी पर दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई और देखते ही देखते मारपीट शुरू हो गई। इस दौरान घायल युवक को बेस अस्पताल भेजा गया जहां उसका उपचार कराया गया। एक लड़की के भी घायल होने की सूचना है। सूचना पर ज्योलीकोट चौकी प्रभारी अविनाश मौर्य फोर्स संग मौके पर पहुंच गए।

चर्चा है कि बवाल रशियन लड़कियों को कार्यक्रम में नचाने का विरोध करने पर शुरू हुआ। इस बारे में पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष का कहना है कि हंगामे की शुरुआत मनीष खाती ने की थी। उनके साथ सूरज रमोला का भाई निखिल सहित अन्य लोग भी थे। चुनावी रंजिश के कारण इन लोगों ने ऐसा किया है।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी- यहाँ जंगल में अज्ञात व्यक्ति का सड़ा-गला शव मिलने से मचा हड़कंप, पुलिस शिनाख्त में जुटी

पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रश्मि लमगड़िया ने बताया कि कार्यक्रम में बतौर गेस्ट आमंत्रित की गई थी। इस बीच स्थानीय लड़कों ने कार्यक्रम में पहुंचीं लड़कियों से अभद्रता करनी शुरू कर दी, जिसका विरोध करने पर लड़कों ने मारपीट की।

लड़कियों को भी पीटा जिसमेें वह घायल भी हुई हैं। मैंने किसी तरह से लड़कियों को टेबल के नीचे छिपाया और जान बचाई। मारपीट करने वालों की संख्या 50-60 थी। उन लोगों ने मेरी गाड़ी के टायरों की भी हवा निकाल दी है। रश्मि ने बताया कि वह अभी भी दो साथियों के साथ रिज़ॉर्ट में ही है जबकि अन्य 4 लड़कियों को पुलिस ने बाहर पहुंचाया और वहां से अपने परिजनों के साथ घर चली गई हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- बगैर बीमा मत चलाना गाड़ी, न्यायालय से छूटना हो जाएगा मुश्किल, वाहन भी हो सकता है नीलाम

मेरे गांव के मनीष खाती से मारपीट की गई है। उसके सिर पर गंभीर चोट आई है। क्रिसमस के कार्यक्रम की आड़ में यहां पर रशियन लड़कियों को नचाया जा रहा था जिसका विरोध करने पर अंदर मौजूद दबंगों ने फायरिंग की। इसके बावजूद पुलिस उनको नहीं पकड़ रही है। 
– दीपांशु जीना, ग्राम प्रधान भुजियाघाट

कॉलेज के चुनाव के पुराने मामले को लेकर दो छात्र गुटों के बीच टकराव हुआ था। महिलाओं के बीच कुछ नहीं हुआ। दोनों पक्षों को समझकर मामला शांत करा दिया गया है। फायरिंग करने की बात भी निराधार है। फिलहाल इस मामले में किसी की ओर से तहरीर नहीं आई है। – अविनाश मौर्य, चौकी प्रभारी ज्योलीकोट