उत्तराखण्ड

नैनीताल उधम सिंह नगर संसदीय क्षेत्र से सांसद अजय भट्ट ने केंद्रीय शहरी विकास मंत्री मनोहर लाल खट्टर से की मुलाकात, लालकुआँ सहित इन क्षेत्र में मेट्रो संचालित के लिए दिया मांग पत्र

पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री व नैनीताल उधम सिंह नगर संसदीय क्षेत्र से सांसद श्री अजय भट्ट ने केंद्रीय शहरी विकास मंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात कर काठगोदाम-हल्द्वानी से वाया रामनगर-काशीपुर-जसपुर-बाजपुर-गदरपुर- रूद्रपुर-लालकुंआ-किच्छा-नानकमत्ता–सितारगंज-खटीमा-टनकपुर तक मैट्रो ट्रेन को संचालित किये जाने को लेकर मुलाकात करते हुए मांग पत्र दिया।

 

श्री भट्ट ने केंद्रीय शहरी विकास मंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात कर अवगत कराया कि उत्तराखण्ड राज्य धार्मिक एवं पर्यटन की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण राज्य हैं। भ्रमण के दौरान स्थानीय जनता द्वारा काफी लम्बे समय से काठगोदाम-हल्द्वानी से उपरोक्त स्थानों तक मैट्रो ट्रेन चलाने की मांग की जा रही है, जो अति आवश्यक भी है। यदि काठगोदाम-हल्द्वानी से उक्त स्थानों तक मैट्रो ट्रेन का संचालन होता है, तो तराई क्षेत्र की आबादी इससे लाभान्वित होगी और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

यह भी पढ़ें 👉  जिला प्रशासन द्वारा अभी तक 14 अगस्त 2023 का जिले में स्कूली छुट्टी का किसी प्रकार का आदेश जारी नही किया, एडीएम श्री अशोक जोशी ने वीडियो जारी कर दी जानकारी।

 

जनपद ऊधमसिंहनगर के अन्तर्गत रूद्रपुर शहर एवं सितारगंज में सिडकुल स्थित होने से पर्वतीय / तराई/देश के अन्य क्षेत्रों के लोग वहां पर कार्य करते है, परन्तु वर्तमान समय में वहां पर कार्यरत् श्रमिकों/कर्मचारियों /अधिकारियों को बस या अन्य माध्यमों से जाना पड़ता है, जिससे समय भी अधिक लगता है, और खर्चा भी अधिक होता है, यदि उक्त स्थानों पर मैट्रो ट्रेन का संचालन होता है तो सिडकुल में कार्यरत् श्रमिकों / कर्मचारियों / अधिकारियों को अपने कार्यस्थल में जाने में काफी सुविधा हो जाएगी।

 

उत्तराखण्ड राज्य के जनपद ऊधमसिंहनगर के सितारगंज में विश्व विख्यात नानकमत्ता गुरुद्वारा साहिब स्थित है तथा वहां पर पूरे वर्षभर देश-विदेश के सैलानियों का लगातार आना-जाना लगा रहता है।

यह भी पढ़ें 👉  नैनीताल हाईकोर्ट इस मामले में हुआ सख्त, राज्य सरकार, एरीज प्रशासन और वन विभाग से जवाब तलब, जानिए पूरा मामला

 

वर्तमान में जनपद नैनीताल एवं ऊधमसिंहनगर के आस-पास अधिक संख्या में सिक्ख समुदाय के लोग निवास करते है तथा प्रदेश के पूरे तराई क्षेत्र के लोग उक्त स्थानों में रोजगार भी करते है, जिससे जनपद नैनीताल, ऊधमसिंहनगर एवं प्रदेश के पूरे तराई क्षेत्र के लोगों का निरन्तर आना-जाना लगा रहता है। उत्तराखण्ड राज्य के जनपद नैनीताल के अन्तर्गत रामनगर में विश्व विख्यात कॉर्बेट पॉर्क एवं गर्जिया मंदिर स्थित है तथा वहां पर पूरे वर्षभर देश-विदेश के सैलानियों का लगातार आना-जाना लगा रहता है।

 

श्री भट्ट ने बताया कि जनपद चम्पावत के अन्तर्गत टनकपुर में विश्व विख्यात अत्यन्त प्राचीन धार्मिक स्थल मों पूर्णागिरी धाम स्थित है। जहां पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु एवं पर्यटक दर्शन एवं पूजा-अर्चना हेतु आते-जाते रहते है। यदि काठगोदाम से उपरोक्त शहरों को जोड़ते हुए टनकपुर तक ट्रेन का संचालन हो जाए तो लोगो को काफी सुविधा मिलने के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों से आने वाले श्रद्धालु एवं पर्यटक भी माँ पूर्णागिरी धाम का आसानी से स्थलीय भ्रमण कर सकते है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून- एक बार फिर सेल्फी बनी जान की दुश्मन, सेल्फी लेते वक्त दो युवक नदी में बहे, देवदूत बनकर पुलिस ने ऐसे बचाई दोनों की जान, वही दो युवक टापू पर फंसे।

 

श्री भट्ट ने जनहित में अनुरोध करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड राज्य के जनपद नैनीताल के अन्तर्गत काठगोदाम-हल्द्वानी से वाया रामनगर-काशीपुर-जसपुर-बाजपुर-गदरपुर- – रूद्रपुर-लालकुंआ-किच्छा-नानकमत्ता सितारगंज-खटीमा-टनकपुर तक मैट्रो ट्रेन को संचालित किये जाने हेतु प्राथमिकता से स्वीकृति प्रदान किया जाना आवश्यक है।

स्रोत:- इनफॉरमेशन डिपार्मेंट उत्तराखंड