उत्तराखण्डगढ़वाल,

देहरादून -(बड़ी खबर) देहरादून के नामी बिल्डर आत्महत्या मामले में दून पुलिस ने दो लोगों को किया गिरफ्तार

  • राजपुर क्षेत्र में बिल्डर द्वारा आत्महत्या किए जाने के प्रकरण में 02 अभियुक्तों को दून पुलिस ने किया गिरफ्तार,आत्महत्या के मामले में मृतक के पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने दर्ज किया था अभियोग।
  • डालनवाला निवासी अनिल गुप्ता तथा अजय कुमार गुप्ता पर मृतक को प्रताडित कर उसके विरूद्ध झूठी शिकायतें देकर मृतक व उनके दामाद को जेल भेजने की धमकी देकर अपनी कम्पनियां उनके नाम पर करने का बनाया जा रहा था दबाव।

 

उत्तराखंड-( देहरादून )- आज 11ः30 पर थाना राजपुर को कंट्रोल रूम के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि पेसेफिक गोल्फ स्टेट की बिल्डिंग के पास एक व्यक्ति घायल अवस्था में बेहोशी की हालत में पडा है। उक्त सूचना पर थानाध्यक्ष राजपुर, चौकी प्रभारी आईटी पार्क मय पुलिस बल के घटना स्थल पर पहुंचे। मौके पर जानकारी करने पर उक्त व्यक्ति की पहचान सतेन्द्र सिंह साहनी निवासी: 119 डी रेसकोर्स देहरादून , जो बिल्डर का कार्य करते हैं, के रूप में हुई। जिनके द्वारा गोल्फ स्टेट बिल्डिंग के आठवें माले से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया गया था, जिन्हें उनके पुत्र द्वारा उपचार के लिये मैक्स हास्पिटल ले जाया गया था, जहां उपचार के दौरान डाक्टरों द्वारा उक्त व्यक्ति को मृत घोषित किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- जिलाधिकारी धीराज ने जारी किया ये आदेश

 

घटना के सम्बन्ध में मृतक के पुत्र रणवीर सिंह साहनी द्वारा थाना राजपुर पर लिखित तहरीर व मृतक द्वारा लिखा गया सुसाईड नोट दिया गया, जिसमें उसके द्वारा अजय कुमार गुप्ता पुत्र शिव गुप्ता व अनिल कुमार गुप्ता पुत्र श्याम लाल गुप्ता के द्वारा उनके पिता सतेन्द्र सिंह साहनी को डराने, धमकाने व ब्लैक मेल करने के तथ्य अंकित किये गए, साथ ही इस सम्बन्ध में उनके पिता द्वारा एक शिकायती प्रार्थना पत्र पुलिस को दिये जाने की बात बताई गई, जिस पर वर्तमान में पुलिस अधीक्षक नगर द्वारा जांच की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  बिन्दुखत्ता- यहाँ गौला के जंगल में आईटीबीपी के जवान का संदिग्ध परिस्थितियों में पेड़ से लटका मिला शव, मचा हड़कंप

 

इसके अतिरिक्त अजय कुमार गुप्ता व अनिल कुमार गुप्ता द्वारा उनके पिता के विरूद्ध झूठी शिकायत सहारनपुर पुलिस को देकर उनकी दोनो कम्पनियां उनके नाम पर करने अन्यथा उन्हें व उनके दामाद को झूठे केस में जेल भेजने की लगातार धमकी देते हुए आत्महत्या करने के लिये उत्प्रेरित किया जा रहा था।

यह भी पढ़ें 👉  लोकसभा चुनाव 2024- हरिद्वार और नैनीताल संसदीय सीट पर कांग्रेस का मंथन जारी, हरिद्वार सीट से हरीश और वीरेंद्र रावत में से किसे मिलेगा टिकट?

 

उक्त प्रार्थना पत्र व सुसाईड नोट के आधार पर तत्काल थाना राजपुर ने धारा: 306 भादवि बनाम अनिल कुमार गुप्ता व अजय कुमार गुप्ता पंजीकृत किया गया। उक्त अभियोग की विवेचना में साक्ष्य संकलन व बयानों के आधार पर अभियुक्त अनिल कुमार गुप्ता व अजय कुमार गुप्ता को अन्तर्गत धारा: 306 भादवि में गिरफ्तार किया गया।