उत्तराखण्डकुमाऊं,

बिन्दुखत्ता- राजस्व गांव के मुद्दे पर फिर आक्रोशित हुए बिन्दुखत्ता के ग्रामीण, इस दिन तय किया जाएगा आर-पार की लड़ाई का ऐलान

लालकुआं न्यूज़- बिंदुखत्ता राजस्व गांव मामले में राज्य सरकार की हीला हवाली को लेकर क्षेत्रवासियों की एक बैठक बिंदुखत्ता संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले प्रतिभा बाल विद्यालय काररोड में संपन्न हुई, जिसमें सर्व सम्मति से तय किया गया की 4 फरवरी को राजस्व गांव की मांग को लेकर विशाल धरना प्रदर्शन की तिथि घोषित की जाएगी।


बिंदुखत्ता संयुक्त संघर्ष समिति के संयोजक कैप्टन इंद्र सिंह पनेरी की अध्यक्षता में संपन्न बैठक का संचालन करते हुए भाकपा माले नेता भुवन जोशी ने कहा कि पिछले 1 वर्ष से भारतीय जनता पार्टी के नुमाइंदे लगातार राजस्व गांव बनाने का वादा कर क्षेत्रीय जनता को गुमराह कर रहे हैं, जिसकी कलई उप जिलाधिकारी हल्द्वानी के कार्यालय से 8 जनवरी 2024 जारी पत्र से खुल गई है ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखण्ड के मुकुल ने चार बार पास की यूपीएससी की परीक्षा

बैठक में वक्ताओं ने कहा कि क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि बिन्दुखत्ता वासियों को वनाधिकार अधिनियम 2006 के तहत राजस्व गांव का दर्जा देने का दिलासा देकर लोकसभा चुनाव साधने में लगे हैं, जिसे जनता बखूबी समझ चुकी है, उन्होंने कहा कि जिसका समय आने पर माकूल जवाब भी दिया जाएगा। बैठक में वक्ताओं ने कहा राजस्व गांव की मांग की लड़ाई को तेज किया जाए और शीघ्र लालकुआं में एक विशाल प्रदर्शन करने का सुझाव दिया ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- यहाँ पत्नी को गोली मारने वाले पति को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, दरोगा के पेट में लगी गोली

इस पर सर्व सम्मति से निर्णय लिया गया की संघर्ष समिति के प्रतिनिधि 3 फरवरी तक क्षेत्र में जनसंपर्क अभियान कर जनप्रतिनिधियों व सामाजिक संगठनों से बातचीत करेंगे, और 4 जनवरी को पुनः 2 बजे से प्रतिभा बाल विद्यालय काररोड में बैठक आयोजित कर लालकुआं में विशाल प्रदर्शन की तिथि भी घोषित की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  एमबीपीजी छात्रसंघ चुनाव अपडेट- 12वें राउंड

बैठक में संयुक्त संघर्ष समिति के पूर्व सैनिक कुंदन सिंह मेहता, मूलचंद कोरी, अमित बोरा, गोपाल सिंह नेगी, भाकपा माले नेता भुवन जोशी, प्रभात पाल, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष पुष्कर सिंह दानू, प्रदीप बथ्याल मीना कपिल, विमला रौथान, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह खनवाल, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राजेंद्र सिंह चौहान, रमेश कुमार ,लक्ष्मण धपोला, किशोर यादव, रमेश राणा, प्रकाश जोशी, त्रिलोक सिंह मेहता, माया देवी,गोविंद बल्लभ भट्ट, गिरधर सिंह बम, उमेद राम सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।