उत्तराखण्डकुमाऊं,गढ़वाल,

उत्तराखंड- यहां करंट लगने से दो लाइनमैनो की हुई मौत

देहरादून न्यूज़– उत्तराखंड के कुमाऊं और गढ़वाल मंडल में दो अलग-अलग घटनाओं में दो लाइनमैन की मौत हो गई। पहली घटना पिथौरागढ़ जिले के बेरीनाग की है जबकि दूसरी चमोली जिले के पीपलकोटी की है। दोनों ही घटनाओं में शट-डाउन के बावजूद करंट प्रवाहित होने का मामला सामने आया है। विभागीय अधिकारियों द्वारा घटना की जांच के आदेश दिए गए हैं।

 

पिथौरागढ़ न्यूज- सीमांत जनपद पिथौरागढ़ की बेरीनाग तहसील से 12 किलोमीटर दूर कांडे गांव में बिजली के तार ठीक करने के दौरान करंट लगने से लाइनमैन की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

 

मिली जानकारी के मुताबिक धंतोली कांडे निवासी लाइन मैन कमलेश कुमार पुत्र मोहन राम उम्र 40 वर्ष बुधवार देर रात्रि को 9 बजे कांडे किरौली क्षेत्र में बिजली नहीं आने पर ठीक करने के लिए कांडे गांव पहुंचा। यहां वह ट्रांसफार्मर में लाइन ठीक करने के लिए गया। इससे पहले सब स्टेशन में फोन कर शटडाउन भी मांगा। इस दौरान लाइन ठीक करने के लिए वह ट्रांसफार्मर के पास पहुंचा तो 11 हजार केवी लाइन में अचानक करंट आ गया। इससे कमलेश कुमार को करंट लग गया और दायां हाथ पूरी तरह से झुलस गया। शरीर के कई हिस्सों में करंट लगकर जल गया। सूचना मिलते ही परिजन प्राइवेट टैक्सी से कमलेश को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेरीनाग लेकर आये। अस्पताल में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड- प्रदेश के सभी दुग्ध संघों में चुनाव की तिथि हुई घोषित, इस दिन होंगे चुनाव, आचार संहिता हुई लागू

 

लाइनमैन की मौत की खबर सुनकर कांडे किरौली से ग्राम प्रधान प्रेमा देवी और जिला पंचायत सदस्य के प्रतिनिधि भूपी कार्की के नेतृत्व में बड़ी संख्या में रात्रि को ग्रामीण सीएचसी बेरीनाग पहुंच गये। वहां पर घटना पर आक्रोश जताते हुए बिजली विभाग के अधिकारियों को जमकर खरी खोटी सुनाई। विभाग पर लापरवाही का आरोप भी लगाया। लोगों ने कहा की शटडाउन लेने के बाद भी कैसे करंट आया। पूर्व में कई मवेशियों को भी करंट लग चुका है। ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए प्रभारी थानाध्यक्ष चंदन सिंह बिष्ट के नेतृत्व भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  यहाँ नकली नोट के साथ दो युवकों को पुलिस ने टांडा तिराहे पर किया गिरफ्तार, पुलिस ने किये 23 लाख रुपए के नकली नोट जप्त, पढ़े पूरी खबर।

 

कमलेश की पत्नी अनीता देवी और दो छोटे छोटे बच्चे बेसुध हो गये हैं। कमलेश के बड़े भाई पूर्व ग्राम प्रधान जगदीश राम ने बिजली विभाग पर हत्या का आरोप लगाया है। इधर बिजली विभाग के अवर अभियंता दीपक कुमार ने बताया कि शटडाउन के बाद कैसे लाइन में करंट आया, इसकी जांच की जायेगी। जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी।

 

चमोली में हाईटेंशन लाइन में कार्य के दौरान लाइनमैन की मौत

चमोली न्यूज़- चमोली-पीपलकोटी के बीच दुर्गापुर में हाईटेंशन लाइन पर काम करते हुए करंट लगने से लाइनमैन की मौत हो गई। लाइन पर आए फॉल्ट को ठीक करने के लिए लाइनमैन अकेले ही गया था।

यह भी पढ़ें 👉  हेरिटेज टूर गाइड प्रशिक्षण की मुक्तेश्वर में त्रिशूल ऑर्चर्ड रिजॉर्ट में हुई शुरुआत।

 

बुधवार को पीपलकोटी से लेकर निजमुला घाटी में 11 केवी की हाईटेंशन लाइन पर फॉल्ट आने से बिजली सप्लाई बंद हो गई। फॉल्ट ठीक करने के लिए संविदा कर्मी प्रदीप कुमार उम्र 32 वर्ष पुत्र गेंदा लाल, निवासी बिरही दुर्गापुर अकेले ही चला गया। जब लाइनमैन से विभागीय कर्मचारी का संपर्क नहीं हुआ। तो वह उसे तलाशने क्षेत्र में गए। मौके पर देखा तो प्रदीप कुमार का शव खंभे से लटका हुआ था।

 

ऊर्जा निगम गोपेश्वर के अधिशासी अभियंता प्रदीप कुमार ने कहा कि लाइन पर काम करने के दौरान संविदा कर्मी प्रदीप को करंट लगा और उसकी मौत हो गई। उसने शटडाउन भी ले रखा था। मामले की जांच कराई जाएगी।